दिल्ली चुनाव : क्राइम ब्रांच ने जब्त की अवैध हथियारों और शराब की बड़ी खेप, दो गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार युवक वसीम मेरठ का रहने वाला है. वह एक मर्डर केस में नामजद है. पुलिस ने कार से 9 देशी पिस्टल, 1 देसी तमंचा, 1.65 mm के 118 कारतूस और 10 अन्य कारतूस बरामद किया है.

दिल्ली के विधानसभा चुनाव में सभी राजनीतिक पार्टियां अपना दमखम लगाने में जुटी है. जहां एक तरफ चुनाव से दिल्ली का माहौल गर्मा गया है, वहीं दूसरी तरफ दिल्ली में अवैध हथियारों और शराब की बड़ी खेप पकड़ी गई है. दिल्ली पुलिस इसकी जांच में जुटी हुई है. दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को शानिवार सुबह करीब सात बजे जानकारी मिली कि मेरठ से हथियारों की एक बड़ी खेप आई जा रही है.

डीसीपी मोनिका भारद्वाज ने बताया कि इस खुफिया जानकारी के आधार पर तुरंत स्पेशल स्टाफ की एक टीम गठित की गई. कश्मीरी गेट से वजीराबाद पुल पास पुलिस टीम नजर बनाए हुए थी. तभी, पुलिस की नजर संदिग्ध हालात में खड़ी एक ब्रेजा कार पर पड़ी. पुलिस ने तुरंत कार सवार शख्स को नीचे उतरने का इशारा किया, लेकिन उसने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी. पुलिस पर उस बदमाश ने दो राउंड फायरिंग की. गनीमत ये रही कि बुलेटप्रूफ जैकेट की वजह से पुलिस वाले जख्मी नहीं हुए. पुलिस ने उसे मौके से ही हिरासत में ले लिया.

9 देशी पिस्टल और 1 देसी तमंचा बरामद 

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार युवक वसीम मेरठ का रहने वाला है. वह एक मर्डर केस में नामजद है. पुलिस ने कार से 9 देशी पिस्टल, 1 देसी तमंचा, 1.65 mm के 118 कारतूस और 10 अन्य कारतूस बरामद किया है.

वही, दूसरी तरह दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को खबर मिली कि चुनावों के मद्देनजर बड़ी संख्या में अवैध शराब दिल्ली के अलग-अलग कोनों में सप्लाई की जाने वाली है. इस सूचना के आधार पर क्राइम ब्रांच ने दिल्ली के तीन अलग-अलग इलाको से 375 अवैध शराब के कार्टून बरामद किया.

पुलिस ने शख्स को अवैध शराब की तस्करी के आरोप में द्वारका इलाके से ज्ञानेंद्र उर्फ ज्ञानी को दस किलोमीटर तक पीछा करके पकड़ा गया है. जबकि निजामुद्दीन और कोतवाली इलाके से नितिन को गिरफ्तार किया गया है. फिलहाल पुलिस दोनों मामलों में जांच कर रही है.

ये भी पढ़ें – RSS के मजदूर संगठन ने कहा- LIC में हिस्सेदारी बेचने का फैसला घातक

Related Posts