15 अगस्त को मिला था ‘बेस्ट कॉन्स्टेबल’ अवार्ड, एक दिन बाद ही घूस लेते पकड़ा गया पुलिसकर्मी

शिकायतकर्ता का कहना है कि उसके पास बालू का ट्रांसपोर्ट करने के लिए जरूरी कागजात थे, इसके बावजूद उससे घूस मांगा जा रहा था.
Telangana police, 15 अगस्त को मिला था ‘बेस्ट कॉन्स्टेबल’ अवार्ड, एक दिन बाद ही घूस लेते पकड़ा गया पुलिसकर्मी

नई दिल्ली: तेलंगाना में एक पुलिसकर्मी को घूस लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा गया है. खास बात यह है कि इस घटना से 24 घंटे पहले ही इस पुलिसकर्मी को ‘बेस्ट कॉन्स्टेबल’ के अवार्ड से सम्मानित किया गया था.

पल्ले थिरुपति रेड्डी महबूबनगर के I-टाउन में कॉन्स्टेबल के रूप में तैनात हैं. रेड्डी को स्वतंत्रता दिवस पर आबकारी मंत्री वी श्रीनिवास गौड ने सम्मानित किया था. इस मौके पर जिला पुलिस अधीक्षक राम राजेश्नवरी भी मौजूद थे.

केस दर्ज नहीं करने के लिए लिया घूस
अवार्ड पाने के एक दिन बाद ही ये पुलिसकर्मी दोबारा मीडिया की सुर्खियों में आ गया है. एंटी करप्शन ब्यूरो ने उन्हें 17,000 रुपये कैस घूस के रूप में लेते हुए पकड़ा है. बताया जा रहा है कि पुलिस अधिकारी ने एक शख्स के खिलाफ केस दर्ज नहीं करने के लिए घूस लिए थे.

शिकायतकर्ता रमेश ने दावा किया है कि घूस देने के लिए पुलिसकर्मी लगातार उस पर दबाव बना रहा था. शिकायतकर्ता का कहना है कि उसके पास बालू का ट्रांसपोर्ट करने के लिए जरूरी कागजात थे, इसके बावजूद उससे घूस मांगा जा रहा था.

एंटी करप्शन ब्यूरो कोर्ट में हुआ पेश
रेड्डी को गिरफ्तार करके एंटी करप्शन ब्यूरो कोर्ट में पेश किया गया. इसके बाद उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया और आगे की कार्रवाई जारी है.

गौरतलब है कि पिछले महीने एंटी करप्शन ब्यूरो के अधिकारियों ने एक राजस्व अधिकारी के घर से 93.5 लाख रुपये कैस और 400 ग्राम सोना बरामद किया था. इस राजस्व अधिकारी को भी दो साल पहले ‘बेस्ट तहसीलदार’ के अवार्ड से सम्मानित किया गया था.

ये भी पढ़ें-

UAPA में हुए बदलाव को SC में चुनौती, याचिकाकर्ता ने कहा- मूल अधिकारों के खिलाफ है ये कानून

बीजेपी में शामिल हुए AAP के बागी विधायक कपिल मिश्रा, बोले- खिलते कमल से आशा है

गलत दस्तावेज पेश कर रतुल पुरी को फंसा रही है ED, वकील ने लगाया गंभीर आरोप

Related Posts