नीतीश कुमार ने पॉर्न साइट्स को बताया बढ़ते रेप का जिम्मेदार, बैन के लिए केंद्र को लिखेंगे

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा, "सोशल मीडिया का दुरुपयोग सही नहीं है. पॉर्न साइट गलत काम करता है. इससे मानसिकता बिगड़ती है. इस पर तत्काल प्रतिबंध लगना चाहिए."

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हैदराबाद में एक वेटरनरी महिला डॉक्टर के साथ गैंगरेप और उसके मर्डर की घटना के साथ ही और बिहार के बक्सर और समस्तीपुर में युवतियों को जलाकर मार डालने की घटना के लिए सोशल साइटों को जिम्मेदार बताया है. गोपालगंज में शुक्रवार को उन्होंने कहा कि पॉर्न साइट को बंद करवा देना चाहिए. इस साइट पर गंदी चीजें दिखाई जाती हैं, जिससे युवाओं की मानसिकता बिगड़ती है.

जल-जीवन-हरियाली यात्रा के दौरान आयोजित एक सभा को संबोधित करते हुए नीतीश ने कहा कि सोशल साइट में कई अच्छाइयां हैं, परंतु इसका दुरुपयोग भी हो रहा है. सोशल मीडिया अच्छा है तो खराब भी है. मुख्यमंत्री ने कहा, “सोशल मीडिया का दुरुपयोग सही नहीं है. पॉर्न साइट गलत काम करता है. इससे मानसिकता बिगड़ती है. इस पर तत्काल प्रतिबंध लगना चाहिए.”

उन्होंने कहा कि पॉर्न साइट गंदी चीजें दिखाता है. वे केंद्र सरकार से कहेंगे कि बिहार सहित पूरे देश में इस साइट्स को बंद कर देना चाहिए. सोशल साइट पर भी गंदी चीजें दिखाने पर रोक लगा देनी चाहिए.

पॉर्न साइट्स पर बैन की केंद्र सरकार की कोशिशों को लेकर पहले काफी विरोध हो चुका है. दूसरी ओर हैदराबाद, उन्नाव, बक्सर, समस्तीपुर, दरभंगा वगैरह की घटना के बाद देश भर में महिला सुरक्षा के मसले पर राजनीति तेज हो गई है.

ये भी पढ़ें –

बिहार के दरभंगा में 5 साल की बच्‍ची से बर्बरता, आरोपी टेंपो ड्राइवर अरेस्‍ट

24 घंटे के अंदर दो युवतियों के अधजले शव बरामद होने से बिहार में सनसनी