अलवर गैंगरेप को लेकर प्रकाश जावड़ेकर ने मांगा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से इस्तीफा

प्रेस कॉन्फ्रेंस में राजस्थान के मुख्यमंत्री से इस्तीफे की मांग करते हुए जावड़ेकर ने कहा, "हर गलती कीमत मांगती है, आपको भी कीमत चुकानी पड़ेगी. यह बड़ी गलती है, आपको इस्तीफा देना पड़ेगा."

जयपुर: प्रकाश जावड़ेकर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राजस्थान के अलवर की घटना पर कांग्रेस पार्टी को घेरा. उन्होंने कहा कि इस घटना ने पूरे देश को विचलित किया है. 26 अप्रैल को पति पत्नी के साथ यह शर्मनाक घटना हुई थी जिसमें पति के सामने पत्नी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया. उन्होंने कहा कि 30 अप्रैल को वह पति-पत्नी एसपी के ऑफिस में जाते हैं लेकिन एसपी एफआईआर दर्ज करने की जगह उन्हें 4 घंटे तक बैठाए रखता है.

जावड़ेकर ने कहा कि घटना के छह दिन बाद 2 मई को एफआईआर दर्ज होती है लेकिन उसके बाद भी 3 मई को आरोपी खुलेआम घूम रहे होते हैं पुलिस उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करती. उन्होंने कहा कि इसके बाद भी अगले दिन यानी 4 मई को बलात्कार का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो जाता है तब भी पुलिस ने कोई एक्शन नहीं लिया.

उन्होंने कहा कि 26 अप्रैल को हुए बलात्कार पर एक्शन चुनाव खत्म होने के बाद 6 मई को हुआ. फिर भी इस घटना पर राज्य के सीएम अशोक गहलोत चुप्पी साधे रहे. केंद्रीय मंत्री ने सवाल करते हुए कहा कि आखिर इतनी बडी घटना किसके कहने से छुपाई गई. उन्होंने कहा कि जब इस घटना के बारे में एसपी को जानकारी है तो भला गृहविभाग को कैसे पता नहीं चला.

इस्तीफा दें राजस्थान के मुख्यमंत्री

प्रेस कॉन्फ्रेंस में राजस्थान के मुख्यमंत्री से इस्तीफे की मांग करते हुए जावड़ेकर ने कहा, “हर गलती कीमत मांगती है, आपको (राज्य सरकार) भी कीमत चुकानी पड़ेगी. यह बडी गलती है, आपको इस्तीफा देना पड़ेगा.” मालूम हो कि कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी कल यानी बुधवार को थानागाजी में जनसभा करने के लिए आ रहे हैं. जावड़ेकर ने कहा कि राहुल गांधी को सीएम से इस्तीफा लेना चाहिए.

उन्होंने बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती पर भी इस मामले में चुप रहने को लेकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि 4 महीने में 34 दलित अत्याचार के मामले सामने आए हैं और मायावती चुप हैं. जनता सातवें चरण में उन्हें लोकतांत्रिक तरीके से उनको जवाब देगी. उन्होंने कहा कि बच्चों और महिलाओं पर अत्याचार के 64 मामले पिछले दिनों सामने आए हैं.

इतिहास से भी कर रही है कांग्रेस छेड़छाड़

जावड़ेकर ने कांग्रेस पार्टी पर इतिहास के पाठ में बदलाव करने का भी आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार 7वी की किताब में लिखा महाराणा प्रताप हल्दीघाटी के युद्ध मे विजयी हुए. 10वी में पढ़ाया कि युद्ध अनिर्णय रहा. 12वीं में पढ़ाया की महाराणा प्रताप हल्दीघाटी का युद्ध हार गए. इसी के साथ कांग्रेस पार्टी पर हमला करते हुए उन्होंने कहा, “एक खानदान का बखान, देशभक्तों का अपमान, प्रताप से अकबर महान यह इनकी सच्चाई.”

मणिशंकर के बयान पर प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि काफी दिनों से मीडिया से बाहर चल रहे मणिशंकर मीडिया के सामने आए और पीएम को नीच कह दिया. उन्होंने कहा कि विपक्ष अब तक करीब 100 गालियां पीएम को दे चुका है. यह विपक्ष की हताशा को दर्शाता है.

ये भी पढ़ें: गोवा में कांग्रेस पार्टी के नेता पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली महिला हुई लापता