चीन में मंदी, भाग रही हैं कंपनियां, टैक्स कम होने से भारत में बढ़ेगा व्यापार: प्रकाश जावड़ेकर

पीएम मोदी के कार्यकाल में व्यवसायिक सफलता का दावा करते हुए कहा कि हमारी सरकार पूरी संवेदनशीलता के साथ काम कर रही है.

रिजर्व बैंक ने शुक्रवार को लगातार पांचवीं बार प्रमुख नीतिगत दर रेपो में 0.25 प्रतिशत की कटौती की है. इसके बाद रेपो दर करीब एक दशक के निचले स्तर पर आ गयी है.
शनिवार को केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने रिजर्व बैंक के फ़ैसले की तारीफ़ करते हुए कहा कि रेपो रेट कम होने से बैंक उपभोक्ताओं को फ़ायदा होगा.

उन्होंने पीएम मोदी के कार्यकाल में व्यवसायिक सफलता का दावा करते हुए कहा कि हमारी सरकार पूरी संवेदनशीलता के साथ काम कर रही है.

उन्होंने कहा कि साल 2014 तक कोई कंपनी भारत आने को तैयार नहीं थी. टैक्स ज़्यादा होने की वजह से कंपनियां यहां आने से डरती थी लेकिन मोदी सरकार ने टैक्स को कम किया है. आज देश में निवेश सबसे प्रमुख है.

वहीं चीन के आर्थिक हालात को लेकर उन्होंने कहा, ‘वहां मंदी का दौर है. कंपनियां आज वहां से निकलना चाहती है. यहां टैक्स कम होने से व्यापार बढ़ेगा.