मंत्री जी फिल्मी दुनिया से बाहर निकलिये, रविशंकर प्रसाद पर प्रियंका गांधी का निशाना

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि 2 अक्टूबर को तीनों फ़िल्मों ने एक दिन में 120 करोड़ रुपए कमाए हैं तो फिर आर्थिक सुस्ती कहां है?

देश के आर्थिक हालात और मंदी पर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के बयान को लेकर विपक्षी दल हमलावर हो गए हैं. कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Wadra) ने मोदी सरकार पर सच्चाई से मुंह चुराने का आरोप लगाया है.

प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘ये दुख की बात है कि जब देश में लाखों लोग नौकरियां खो रहे हैं, उनके पैसे पर बैंक कुंडली मारकर बैठे हैं, सरकार को जनता के दुख की फिक्र नहीं है. उन्हें फिल्मों के मुनाफे की परवाह है. मंत्री जी फिल्मी दुनिया से बाहर निकलिये…हकीकत से मुंह मत चुराइये.’

दरअसल, 2 अक्टूबर को रिलीज़ हुई बॉलीवुड की 3 फ़िल्मों का ज़िक्र किया. रविशंकर प्रसाद ने कहा कि 2 अक्टूबर को तीनों फ़िल्मों ने एक दिन में 120 करोड़ रुपए कमाए हैं तो फिर आर्थिक सुस्ती कहां है? जबकि मालूम हो अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने भी कुछ दिन पहले कहा थी कि भारत और ब्राजील में आर्थिक सुस्ती साफ तौर पर दिखाई दे रही है.

हालांकि बाद में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एक प्रेस रिलीज कर अपने बयान पर सफाई दी है. उन्होंने कहा ‘मेरे सोशल मीडिया पेज पर मेरी ब्रीफींग का पूरा वीडियो मौजूद है.
मुझे एक बार फिर बहुत अफ़सोस के साथ यह कहना पड़ रहा है कि मेरे बयान को तोड़-मरोड़ कर लोगों के सामने रखा गया. एक संज़ीदा व्यक्ति होने के नाते मैं अपना बयान वापस लेता हूं.’

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने कुछ दिनों पहले ही कहा था कि भारत और ब्राजील में आर्थिक सुस्ती साफ तौर पर दिखाई दे रही है.

रविशंकर प्रसाद ने बेरोजगारी पर राष्‍ट्रीय नमूना सर्वेक्षण कार्यालय (एनएसएसओ) की रिपोर्ट को भी गलत बताया था. इसमें कहा गया था कि साल 2017 में बेरोजगारी की दर पिछले 45 साल में सबसे ज्यादा रही.

वहीं प्रसाद ने आरोप लगाया है कि कुछ लोग योजनाबद्ध तरीके से सरकार के खिलाफ लोगों को बेरोजगारी की स्थिति के बारे में गुमराह कर रहे हैं.