प्रियंका बोलीं- भाजपा नेता अगर सच्चे देशभक्त होते तो इंदिरा और राजीव गांधी का सम्मान करते

प्रियंका गांधी ने कहा कि आप यह चयन नहीं कर सकते कि किस शहीद का सम्मान करें. अगर आप सच्चे देशभक्त हैं तो राजीव गांधी और इंदिरा गांधी समेत सभी शहीदों का सम्मान करें.

नई दिल्ली: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा है कि अगर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता सच्चे देशभक्त होते तो वे पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और राजीव गांधी समेत देश के शहीदों का सम्मान करते.

प्रियंका गांधी ने कहा, “देशभक्ति की बड़ी-बड़ी बातें करने वाले भाजपा नेता अगर सच्चे देशभक्त होते तो वे देश के शहीदों का सम्मान करते, चाहे वे शहीद हिंदू हों या मुस्लिम या उनके राजनीतिक विरोधी के पिता. वह शहीद हैं.”

यूपी के फतेहपुर में एक नुक्कड़ सभा में उन्होंने कहा कि आप यह चयन नहीं कर सकते कि आप किस शहीद का सम्मान करें. अगर आप सच्चे देशभक्त हैं तो राजीव गांधी और इंदिरा गांधी समेत सभी शहीदों का सम्मान करें.

‘अगर वे सही मायने में देशभक्त हैं तो…’
उन्होंने कहा, “अगर वे सही मायने में देशभक्त होंगे तो वे मुकरेंगे नहीं. किसान जब दिल्ली आकर सरकार को अपनी समस्या बताएंगे तो वहे अपने दरवाजे बंद नहीं करेंगे. अगर वे सही मायने में देशभक्त होते तो नौकरियां पैदा करने के अपने वादे पूरे करते.”

देश का भविष्य तय करने के लिए आगामी चुनाव को महत्वपूर्ण बताते हुए प्रियंका ने लोगों से कहा कि वह उनको यह याद दिलाने आई हैं कि सच्ची देशभक्ति के क्या मायने हैं.

उन्होंने कहा, “हर चुनाव में भाजपा देशभक्ति का मुद्दा उठाती है, मगर विकास पर कोई बात नहीं करती है. मैं यहां आपको यह याद दिलाने आई हूं कि देशभक्ति के क्या सही मायने हैं.”

कालेधन पर उठाया सवाल
उन्होंने कहा कि भाजपा ने लोगों से कतारों में खड़े होकर अपने पैसे बैंकों में जमा करने को कहा और इसे देशभिक्त का कार्य बताया और कहा कि उससे कालाधन वापस आएगा.

उन्होंने कहा, “क्या कालाधन वापस आया? एक भी पैसा नहीं. सच्ची देशभक्ति लोकतंत्र में विश्वास और जिम्मेदारी से उनको वोट देना है जो आपके लिए काम करते हैं और जो अपने वादे पूरे करते हैं. राजनेता जल्द ही भूल जाते हैं कि उनको सत्ता में किसने लाया. आपको जागरूक बनने और ये बातें उनको याद दिलाने की जरूरत है.”