SPG सुरक्षा हटाए जाने पर बोलीं प्रियंका गांधी, ‘राजनीति है…होती रहेगी’

केंद्र सरकार द्वारा गांधी परिवार की SPG सुरक्षा हटाए जाने के बाद कांग्रेस पार्टी की युवा विंग देशभर में इस फैसले के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रही है.

कांग्रेस पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी ने उनकी SPG सुरक्षा हटाए जाने को राजनीति बताया है. उन्होंने गुरुवार को इस मसले पर कहा, ‘यह सब राजनीति है. यह होती रहेगी.’ मालूम हो कि केंद्र सरकार ने हाल ही में गांधी परिवार की SPG सुरक्षा हटाने का फैसला लिया है.

केंद्र सरकार द्वारा गांधी परिवार की SPG सुरक्षा हटाए जाने के बाद कांग्रेस पार्टी की युवा विंग देशभर में इस फैसले के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रही है. संसद में भी कांग्रेस पार्टी के सांसद गांधी परिवार की SPG सुरक्षा हटाए जाने को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं. हालांकि सत्ता पक्ष कांग्रेस पार्टी के इन प्रदर्शनों को लेकर हमलावर है.

मालूम हो कि देश के प्रधानमंत्री, पूर्व प्रधानमंत्री और गांधी परिवार के सदस्य (सोनिया गांधी, प्रियंका गांधी और राहुल गांधी) को SPG का स्पेशल सुरक्षा कवर दिया जाता था. हालांकि अब केंद्र सरकार के फैसले के मुताबिक यह सुरक्षा सिर्फ प्रधानमंत्री को मिलेगी. वहीं गांधी परिवोर को सीआरपीएफ की जेड प्लस सुरक्षा दी गई है.

किसे मिलती है यह सुरक्षा?

विशेष सुरक्षा दल यानि स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG) देश की सबसे उच्च स्तर की सुरक्षा फोर्स है, जो बहुत सीमित लोगों को प्रदान की जाती है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा SPG गांधी परिवार के सदस्यों की सुरक्षा करती थी लेकिन इसे हटा दिया गया है.

SPG कमांडो हर जगह, हर समय सुरक्षा में लगे होते हैं. आमतौर पर पूर्व प्रधानमंत्री को पांच साल तक ये सुरक्षा प्रदान करती है फिर इसकी समीक्षा की जाती है. पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और उनके परिवार की एसपीजी सुरक्षा खत्म करके उन्हें भी जेड प्लस सुरक्षा दी गई है.

ये भी पढ़ें: 27 वर्षीय युवक को कैसे मिला रतन टाटा के साथ काम करने का मौका, फेसबुक पोस्ट में हुआ खुलासा