पंजाब में 26 साल के युवक पर दागी 8 गोलियां, गैंगस्टर ने फेसबुक पोस्ट कर बताया

गैंगस्टर संधू ने अपनी पोस्ट में लिखा, "पंडोरी में जिस व्यक्ति की हत्या की गई थी, उसे हमने मारा था. हमने अपने सम्मान के लिए इस हत्या को अंजाम दिया. इस आदमी से हमारी पुरानी दुश्मनी थी."

अमृतसर जिले में दो मोटरसाइकिल सवार लोगों द्वारा 26 वर्षीय व्यक्ति की गोली मारकर हत्या करने के एक दिन बाद बुधवार को एक गैंगस्टर ने फेसबुक पर हत्या की जिम्मेदारी ली है. एक फेसबुक पोस्ट में, हरविंदर सिंह संधू नाम के इस गैंगस्टर ने कहा कि एक पुरानी दुश्मनी के कारण उसने ये हत्या की थी.

पुलिस के मुताबिक पंडोरी गांव का मनदीप सिंह मंगलवार शाम करीब 6 बजे स्कूटी से घर जा रहा था, तभी दो मोटरसाइकिल सवार व्यक्तियों ने उसे रोका और गोलीबारी कर दी. उन दो संदिग्धों को पुलिस द्वारा पहचाना जाना बाकी है. पुलिस ने बताया कि मनदीप को आठ गोलियां लगीं और उन्होंने मौके पर ही दम तोड़ दिया.

हालांकि हरविंदर सिंह संधू ने इस हत्या की जिम्मेदारी सोशल मीडिया पर चंद घंटों बाद ही ले ली थी. पंजाब में गैंगस्टरों के लिए सोशल मीडिया का उपयोग करते हुए हत्या की जिम्मेदारी लेना आम बात हो गई है. वह अक्सर अपने प्रतिद्वंदियों को चेतावनी देने और अपनी गैंग में छवि और मजबूत करने के लिए ऐसा करते हैं.

ऐसे गैंगस्टरों की फैन फॉलोइंग भी काफी है, जिसके चलते पुलिस को भी काफी परेशानी होती है. राज्य पुलिस ने इन पेजेस को हटाने के लिए फेसबुक से भी आग्रह किया है, लेकिन अभी तक कोई ठोस सफलता नहीं मिल सकी है. एक फेसबुक पोस्ट में, संधू, जो पुलिस के मुताबिक पंजाब के आठ सबसे बड़े शहरों में कुख्यात गैंगस्टर है, ने कहा कि उसके गिरोह ने हमले को अंजाम दिया था.

संधू ने अपनी पोस्ट में लिखा, “पंडोरी में जिस व्यक्ति की हत्या की गई थी, उसे हमने मारा था. हमने अपने सम्मान के लिए इस हत्या को अंजाम दिया. इस आदमी (मनदीप) से हमारी पुरानी दुश्मनी थी. अगर हम 25 राउंड चला सकते हैं, तो हम 100 राउंड फायर भी कर सकते हैं. अगर भविष्य में कोई भी ऐसी गलती करता है, तो उसे इसी तरह का नुकसान होगा. पुलिस को कार्रवाई करनी चाहिए, लेकिन इस मामले में किसी निर्दोष पर मुकदमा दर्ज नहीं किया जाना चाहिए.”

ये भी पढ़ें: अफवाहों पर न दें ध्यान, सही समय पर घाटी में शुरू होगा इंटरनेट, राज्यसभा में बोले शाह