‘रेडिएशन कम करती है गोबर से बनी चिप’, 600 वैज्ञानिकों-शिक्षकों ने कामधेनु आयोग से मांगा सबूत

राष्ट्रीय कामधेनु आयोग (Rashtriya Kamdhenu Aayog) के चेयरमैन वल्लभभाई कथीरिया (Vallabhbhai Kathiria) ने हाल ही में एक गोबर से बनी चिप लॉन्च की थी, जिसको लेकर उन्होंने दावा किया था कि ‘इस चिप के उपयोग से मोबाइल से निकलने वाली रेडिएशन (Radiation) को काफी हद तक कम किया जा सकता है’.

  • भाषा
  • Publish Date - 7:45 am, Mon, 19 October 20
'रेडिएशन कम करती है गोबर से बनी चिप', 600 वैज्ञानिकों-शिक्षकों ने कामधेनु आयोग से मांगा सबूत

राष्ट्रीय कामधेनु आयोग (Rashtriya Kamdhenu Aayog) के चेयरमैन वल्लभभाई कथीरिया (Vallabhbhai Kathiria) ने हाल ही में एक गोबर से बनी चिप लॉन्च की थी, जिसको लेकर उन्होंने दावा किया था कि ‘इस चिप के उपयोग से मोबाइल से निकलने वाली रेडिएशन (Radiation) को काफी हद तक कम किया जा सकता है’, अब इस दावे के संबंध में करीब 600 वैज्ञानिकों और विज्ञान के शिक्षकों ने राष्ट्रीय कामधेनु आयोग के अध्यक्ष वल्लभभाई कथीरिया को पत्र लिखकर उनसे अपने दावे को सही सिद्ध करने वाले साक्ष्य पेश करने को कहा है.

ये भी पढ़ें: मार्च-अप्रैल में नहीं लगा होता लॉकडाउन तो देश में 25 लाख से ऊपर पहुंचता मौत का आंकड़ा- केंद्रीय पैनल

वैज्ञानिकों और विज्ञान के शिक्षकों ने आयोग के अध्यक्ष कथीरिया से कहा है कि, ‘वह से मोबाइल फोन विकिरण कम करने में मदद मिलने संबंधी अपने दावों को साबित करने के लिए साक्ष्य पेश करें और इस संबंध में वैज्ञानिक प्रयोग कब और कहां हुए, मुख्य जांचकर्ता कौन था, इस संबंधी अध्ययन के परिणाम कहां प्रकाशित हुए. इन सबकी जानकारी भी दें’.

मालूम हो कि कथीरिया ने पिछले सप्ताह गोबर से बनी एक चिप लॉन्च कर ये दावा किया था कि ‘गोबर की चिप मोबाइल हैंडसेट से निकलने वाली रेडिएशन को काफी कम कर देती है. कथीरिया ने ये भी दावा किया था कि ‘गाय का गोबर एंटी-रेडिएशन तत्व है और सभी की रक्षा करता है, यह वैज्ञानिक रूप से सिद्ध किया गया है’.

ये भी पढ़ें: गाय के गोबर से बनी चिप से कम होगा मोबाइल का रेडिएशन-कामधेनु आयोग के प्रमुख का दावा