राफेल विमान सौदे में हुई चोरी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दोहराई बात

दरअसल, राष्ट्रपति ने अपने संयुक्त अभिभाषण में कहा कि भारत को पहला राफेल लड़ाकू विमान और ‘अपाचे’ हेलीकॉप्टर...........

नई दिल्ली: राफेल डील को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए एक बार फिर से कहा कि इस डील में चोरी हुई है. संसद के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में राष्ट्रपति के अभिभाषण के बाद, बाहर आते हुए गांधी ने संसद भवन में यह टिप्पणी की.

अभिभाषण के बारे में पूछे जाने पर गांधी ने कहा, ‘मेरा रुख आज भी वही है कि राफेल विमान सौदे में चोरी हुई है.’

दरअसल, राष्ट्रपति ने अपने संयुक्त अभिभाषण में कहा कि भारत को पहला राफेल लड़ाकू विमान और ‘अपाचे’ हेलीकॉप्टर निकट भविष्य में मिलने जा रहे है. इसी को लेकर राहुल गांधी ने अपनी प्रतिक्रिया दी है.

राहुल गांधी इससे पहले आम चुनाव में भी राफेल मुद्दे को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोलते रहे हैं. इसी क्रम में राहुल गांधी ने ‘चौकीदार चोर है’ कैंपेन भी चलाया.

आपको याद होगा चुनावी सभा में राफेल मुद्दे पर दिए गए अपने बयान को लेकर राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट में खेद जताते हुए कोर्ट से माफी मांगी थी.

राफेल डील को लेकर सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका मंजूर होने के बाद राहुल गांधी ने बयान दिया था कि सुप्रीम कोर्ट ने भी मान लिया है कि चौकिदार ने चोरी की है, राहुल गांधी के इस बयान के बाद भाजपा नेता मिनाक्षी लेखी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर राहुल गांधी पर कोर्ट की कार्रवाई को गलत तरीके से दर्शाने का आरोप लगाया था.

मिनाक्षी लेखी की याचिका मंजूर करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने पहले 15 अप्रैल को सुनवाई रखी थी और बाद में 22 अप्रैल के लिए सुनवाई तय की, लेकिन आज की सुनवाई में राहुल गांधी ने अपने बयान के लिए खेद जताया और कोर्ट से माफी मांगी, राहुल गांधी ने कहा कि यह बयान चुनाव प्रचार के दौरान दिया गया था.

लोकसभा चुनाव से पहले राहुल ने राफेल डील मामले में सीबीआई जांच की बात करते हुए कहा था कि अगर ऐसा होता तो चौकीदार का सच सामने आ जाता.