‘INS Viraat पर मौजूद था, पर हम छुट्टियां बिताने नहीं गए थे’, PM मोदी के आरोपों पर बोले राहुल गांधी

बीते सप्ताह PM मोदी ने राजीव गांधी को 'भ्रष्टाचारी नंबर 1' कहा था. फिर INS Viraat के दुरुपयोग का आरोप लगाया.

नई दिल्‍ली: कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि उनके पिता और पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने विमान वाहक पोत INS Viraat का इस्तेमाल छुट्टियों के लिए नहीं किया था. उन्‍होंने कहा कि वह INS Viraat पर अपने पिता के साथ मौजूद थे, मगर यह आधिकारिक दौरा था, कोई छुट्टी नहीं. एक अंग्रेजी अखबार के साथ इंटरव्‍यू में राहुल गांधी ने कहा, “कोई किसी एयरक्राफ्ट कैरियर पर छुट्टियां बिताने जाएंगे? ये (INS Viraat) कोई क्रूज शिप नहीं है.”

पीएम मोदी ने क्‍या आरोप लगाया था?

राहुल दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस आरोप का जवाब दे रहे थे जो उन्‍होंने नई दिल्‍ली में रैली के दौरान लगाया था. मोदी ने कहा था कि राजीव गांधी ने INS Viraat और इसके कर्मियों का इस्तेमाल निजी छुट्टियां मनाने के लिए किया था जिस दौरान उनके विदेशी ससुरालवाले उनके साथ थे. मोदी ने आरोप लगाया कि INS Viraat को उसकी तैनाती वाली जगह से हटाकर राजीव गांधी के ससुराल के लोगों को लाने के लिए भेजा गया और उन्हें इसी युद्धपोत से एक द्वीप पर भेजा गया. द्वीप पर इनकी आवभगत करने वाला कोई नहीं था, इसलिए सारा इंतजाम युद्धपोत के कर्मियों ने किया. उन्होंने कहा कि यह छुट्टी कोई एक दिन में नहीं खत्म हुई बल्कि दस दिन तक चली. इस दौरान युद्धपोत वहीं खड़ा रहा.

पीएम मोदी के आरोप के जवाब में कांग्रेस ने भी यही कहा था कि राजीव गांधी ने INS Viraat का इस्‍तेमाल आधिकारिक उद्देश्‍य के लिए किया था. कांग्रेस ने कहा था कि मोदी, राजीव गांधी पर हमला कर रहे हैं, क्योंकि उनके पास मतदाताओं के सामने प्रस्तुत करने के लिए उनकी सरकार की कोई उपलब्धि नहीं है.

विराट है INS Virat का इतिहास, जहाज़ पर बसता था छोटा शहर; ख़ासियत जानकर हो जाएंगे हैरान

जवाहर लाल नेहरू ने भी परिवार संग INS दिल्ली युद्धपोत में फरमाया था आराम