सांसदों की गैरमौजूदगी पर सख्त वेंकैया नायडू, कहा- संसदीय कमेटी से हटाने का नियम भी है

राज्यसभा के चेयरमैन वेंकैया नायडू ने कहा कि कमेटी के चेयरमैन सदन में रिपोर्ट रखते वक्त रिपोर्ट के साथ ये रिकॉर्ड भी लगाएंं (संलग्न) कि किस सदस्य ने कितनी बैठक अटैंड की है.

राज्यसभा के चेयरमैन वेंकैया नायडू मंत्रियों और सांसदों की गैर-मौजूदगी पर सख्त हो गए हैं. वेंकैया नायडू ने सभी सांसदों को स्थायी समिति की बैठकों में नियमित रूप से हिस्सा लेने के लिए कहा है.

गुरुवार को उन्होंने सांसदों को सख्त हिदायत दी है कि स्टैंडिंग कमेटी और सेलेक्ट कमिटी की बैठकों को गंभीरता से लें और उपस्थित रहें. वेंकैया नायडू ने कहा कि कमेटी के चेयरमैन सदन में रिपोर्ट रखते वक्त रिपोर्ट के साथ ये रिकॉर्ड भी लगाएंं कि किस सदस्य ने कितनी बैठक अटैंड की है.

वेंकैया ने कहा कि बिना ठोस वजह बताए अगर कोई सदस्य कमेटी की लगातार दो बैठकों में गैरहाजिर रहता है तो उसको उस कमेटी से हटाने का नियम है. अब वे इस नियम का कड़ाई से पालन करेंगे और ऐसे सांसदों को उस समिति से हटा दिया जाएगा.

वेंकैया ने ये बातें सरोगेसी बिल को सेलेक्ट कमेटी को भेजते वक्त राज्यसभा में कही. गौरतलब है कि पिछले हफ्ते दिल्ली में प्रदूषण पर चर्चा के लिए बुलाई गई शहरी विकास मंत्रालय की स्थायी समिति की बैठक में 29 में से सिर्फ 4 सदस्य ही मौजूद थे.

सभापति ने इसे गंभीरता से लिया है. वह यह सुनिश्चित कराना चाहते हैं कि सदस्य समितियों को गंभीरता से लें.

ये भी पढ़ें-

Maharashtra Government Formation:रात को पवार के घर पहुंचे उद्धव, अभी और चलेगा बैठकों का दौर

2022 यूपी चुनाव में सपा अकेले दम पर सरकार बनाएगी : अखिलेश यादव