राहुल गांधी ने नहीं की अध्यक्ष पद से इस्तीफे की पेशकश- रणदीप सुरजेवाला

कांग्रेस के लोकसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन और अपनी परंपरागत सीट हारने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के लिए आगे की राह आसान नहीं रहने वाली है.

नई दिल्ली. कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ये साफ कर दिया है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के इस्तीफे की पेशकश करने की खबरें गलत हैं. कांग्रेस कार्यसमिति (CWC) की बैठक का आज दिल्ली में आयोजन किया गया था.  52 सदस्‍यीय समिति में पार्टी के वरिष्‍ठ नेता शामिल हुए थे.

24, अकबर रोड पर पार्टी कार्यालय के बाहर इंतजार कर रहे पत्रकारों को संदेश देते हुए सुरजेवाला ने स्पष्ट किया कि राहुल के इस्तीफे की पेशकश की रिपोर्ट गलत है. इससे पहले की रिपोर्टों के अनुसार, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी की शीर्ष इकाई की बैठक शुरू होने के तुरंत बाद 2019 आम चुनाव में पार्टी की हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए इस्तीफे की पेशकश की थी.

ये भी पढ़ें: इन 5 गलतियों की वजह से चुनावों में डूबी कांग्रेस की लुटिया

CWC के सिर्फ चार सदस्यों को मिली है जीत

बैठक में हरियाणा, झारखंड और महाराष्ट्र में होने जा रहे विधानसभा चुनावों पर भी चर्चा होनी है. CWC के 23 सदस्यों में हाल ही में हुए चुनाव में सिर्फ चार लोग- पार्टी प्रमुख राहुल गांधी, संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी, गौरव गोगोई और ए. चेल्ला कुमार ही जीते हैं.

लोकसभा चुनाव में हारने वाले 12 अन्य सदस्यों में वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित, पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार, ज्योतिरादित्य सिंधिया, रघुवीर सिंह मीना, जितिन प्रसाद, दीपेंदर हुड्डा, सुष्मिता देव, के.एच. मुनियप्पा और अरुण यादव हैं.

ये भी पढ़ें: कांग्रेस में इस्‍तीफों का दौर शुरू, अनिल शास्‍त्री बोले- मोदी को टारगेट करना उल्‍टा पड़ा

CWC के सात सदस्यों ने लोकसभा चुनावों में भाग नहीं लिया था. पार्टी ने कांग्रेस शासित पांच राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों को भी आमंत्रित किया है. लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को मात्र 52 सीटें मिलने के बाद से ही मंथन शुरू हो चुका है. यह संख्या पार्टी को पिछले लोकसभा में पार्टी को मिलीं 44 सीटों से मात्र आठ ज्यादा है.

कांग्रेस के ये पदाधिकारी दे चुके हैं इस्तीफा

कांग्रेस के उत्तर प्रदेश प्रभारी राज बब्बर, प्रचार समिति प्रमुख एच.के. पाटिल, ओडिशा पार्टी प्रमुख निरंजन पटनायक और अमेठी जिला अध्यक्ष योगेंद्र मिश्रा ने शुक्रवार को अपने पदों से इस्तीफा दे दिया है.