चिन्मयानंद केस: आरोप लगाने वाली लड़की बोली, क्या मैं रेप के वक्त अपना वीडियो बनाती?

पीड़िता का कहना है कि बलात्कार के मुकदमे को कमजोर करने के लिए उसका नाम रंगदारी के मुकदमे में घसीटा जा रहा है.

पीड़ित छात्रा ने कहा, स्वामी पर 376 न लगने से संतुष्ट नहीं हूं. बलात्कार के केस को कमजोर करने के लिए मेरा नाम रंगदारी में घसीटा जा रहा है.

स्वामी चिन्मयानंद के जेल जाने के बाद इस प्रकरण में मुख्य भूमिका निभाने वाली पीड़ित छात्रा का कहना है कि स्वामी चिन्मयानंद पर 376 की धारा न लगने से वह संतुष्ट नहीं है. उसका कहना है कि बलात्कार के मुकदमे को कमजोर करने के लिए उसका नाम रंगदारी के मुकदमे में घसीटा जा रहा है.

छात्रा ने कहा कि आगे की कार्रवाई के लिए हमारे वकील को हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट जो तय करेगा वह मंजूर होगा लेकिन कहीं न कहीं बलात्कार का मुकदमा न होना मेरे लिए आहत कर देने वाली बात है. पीड़िता ने कहा, पुलिस क्या चाहती है? बलात्कार या यौन शोषण होते समय मैं अपना वीडियो बनाती? तब पुलिस मानती कि मेरे साथ बलात्कार हुआ है.

यौन शोषण के आरोपी पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद को गिरफ्तार कर लिया गया है. स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम (SIT) ने  स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर चिन्मयानंद को शाहजहांपुर आश्रम से से गिरफ्तार किया है.

पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद के कॉलेज में एलएलएम की छात्रा ने 24 अगस्त को एक वीडियो वायरल किया था जिसमें उसने चिन्मयानंद पर आरोप लगाया था कि उसने उसकी और कई अन्य लड़कियों की जिंदगी बर्बाद कर दी है. इसके साथ ही उसने अपने और अपने परिवार की जान का खतरा बताया था. वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने चिन्मयानंद के खिलाफ अपहरण और जान से मारने की धमकी की धाराओं में मामला दर्ज कर लिया था.

ये भी पढ़ें- गिरिराज सिंह का नीतीश कुमार पर जवाबी हमला- महादेव की दया से जो सही लगता है बोलता हूं