महंगाई के ताजा आंकड़ों पर घिरी सरकार, कांग्रेस बोली- देश के लोगों को खाने के लाले पड़ गए

दिसंबर 2019 में सब्जियों की कीमतों में 60.50 फीसदी और दालों के दाम में 15.44 फीसदी की बढ़ोतरी हुई.

देश की खुदरा खाद्य महंगाई दर दिसंबर में 14.12 फीसदी पर पहुंच गई. आधिकारिक आंकड़ों में सोमवार को यह जानकारी दी गई. इसकी वजह मौसमी कारकों की वजह से सब्जियों व दालों की कीमतों के बढ़ने को बताया गया है. राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) के अनुसार, उपभोक्ता खाद्य मूल्य सूचकांक 14.12 फीसदी हो गया. यह नवंबर में 10.01 फीसदी था. इसके चलते समग्र उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) 7.35 फीसदी हो गया. यह नवंबर में 5.54 फीसदी था. विपक्ष ने इन आंकड़ों को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है.

कांग्रेस प्रवक्‍ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, “महंगाई और बेरोजगारी के रूप में मोदी सरकार ने देश को दो धोखे दिए हैं. देश में महंगाई चरम सीमा पर है. आम आदमी का बजट गड़बड़ा गया है. देश के लोगों को खाने के लाले पड़ गए. शायद 2012-13 के बाद पहली बार महंगाई इतनी चरम सीमा पर पहुंची है. 2013-14 में “अबकी बार, महंगाई पर वार” की बात करने वाले मोदी जी चुप बैठे हैं और महंगाई डायन की भांति हर रोज बढ़ती जा रही है.”

सुरजेवाला ने आगे कहा, “खुदरा महंगाई जुलाई 2019 में 3.15% थी, अगस्त में 3.28%, सितंबर में 3.99%, अक्टूबर में 4.62%, नवम्बर में 5.54% और दिसंबर में 7.35% हो गई. जनवरी-20 में महंगाई 8% को छू रही है. भाजपा सरकार नकारा और निकम्मी है. न प्रधानमंत्री कोई जवाब देते, न खाद्य मंत्री.”

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया, “सब्जियां, खाने पीने की चीजों के दाम आम लोगों की पहुंच से बाहर हो रहे हैं. जब सब्जी, तेल, दाल और आटा महंगा हो जाएगा तो गरीब खाएगा क्या? ऊपर से मंदी की वजह से गरीब को काम भी नहीं मिल रहा है. भाजपा सरकार ने तो जेब काट कर पेट पर लात मार दी है.”

दिल्‍ली के डिप्‍टी सीएम और आम आदमी पार्टी के नेता मनीष सिसोदिया ने कहा, “NSO के आंकड़े बता रहे हैं कि बीजेपी सरकार में महंगाई बढ़ रही है. पूरे देश में सब्जियां 60% तक महंगी हुई हैं. वही दिल्ली सरकार लोगों को मदद कर रही है, फ्री दवा दे रही है, बिजली दे रही है. प्रवेश वर्मा कह रहे हैं कि अगर हम सत्ता में आए तो फ्री चीजों को बंद कर देंगे. प्रवेश वर्मा जी, आपको दिक्कत क्या है, आपकी केंद सरकार महंगाई बढ़ा रही है ऐसे में दिल्ली सरकार महंगाई कम कर रही है.”

कितनी बढ़े सब्जियों और दालों के दाम?

सालाना आधार पर उपभोक्ता मूल्य सूचकांक दर के संदर्भ में सब्जियों व दालों की कीमतों में क्रमश: 60.50 फीसदी व 15.44 फीसदी की दिसंबर 2019 में बढ़ोतरी हुई. इसके अलावा, मांस और मछली की कीमतें 9.57 फीसदी बढ़ीं, अंडे 8.79 फीसदी और समग्र रूप से खाद्य और पेय पदार्थो की श्रेणी में 12.16 फीसदी की वृद्धि हुई. इसके अलावा, सीपीआई के तहत ईंधन में 0.70 फीसदी की बढ़ोतरी हुई.