30 साल तक देश की सेवा करने वाले भारतीय सैनिक का नाम NRC लिस्ट में नहीं

52 वर्षीय मोहम्मद सनाउल्लाह दो दशक पहले भारतीय सेना में रहते हुए कारगिल युद्ध में देश के लिए लड़े थे.
मोहम्मद सनाउल्लाह, 30 साल तक देश की सेवा करने वाले भारतीय सैनिक का नाम NRC लिस्ट में नहीं

गुवाहाटी. असम में सेना के एक रिटायर अधिकारी को विदेशी ठहराकर डिटेंशन कैम्प में भेज दिया गया. बोको की ट्रिब्यूनल ने मोहम्मद सनाउल्लाह को विदेशी घोषित करने का आदेश दिया. इसके बाद मंगलवार को पुलिस ने उन्हें उनके घर से हिरासत में ले लिया और फिर उन्हें डिटेंशन कैम्प भेज दिया.

यह कदम उन विदेशी नागरिकों को हटाने की असम की विस्तृत प्रक्रिया से जुड़ा है, जिनके नाम राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) के मसौदे में शामिल नहीं हैं और जिनकी नागरिकता अब संदेह में है.

उल्लाह के वकील और उनके परिवार के सदस्यों का कहना है कि वह मूल रूप से भारत के नागरिक हैं और उल्लाह ने 30 साल तक भारतीय सेना में अपनी सेवाएं दी है. उन्होंने 1987 में भारतीय सेना वह 2017 में कैप्टन के पद से रिटायर हुए. उल्लाह के वकील शाहिदुल इस्लाम ने कहा कि वह ट्रिब्यूनल के फैसले के खिलाफ ऊपरी अदालत में अपील करेंगे.

मोहम्मद सनाउल्लाह सीमा पुलिस में सहायक उप-निरीक्षक (एएसआई) के रूप में अपनी सेवा दे रहे हैं. अवैध प्रवासी घोषित किए जाने के बाद उन्हें डिटेंशन कैम्प में रखा गया है. सीमा पुलिस असम की वह इकाई है, जो अक्सर सेवानिवृत्त सेनाकर्मियों और अर्धसैनिक कर्मियों को नियुक्त करती है.

सनाउल्लाह ने बताई गलत उम्र, तभी हुई गड़बड़ी

सेना में जूनियर कमीशन अधिकारी के पद से सेवानिवृत्त हुए मोहम्मद अजमल हक ने बताया कि असम में जन्म के बीस साल बाद 1987 में सनाउल्लाह सेना में शामिल हुए थे. वह 2017 में सेना से सेवानिवृत्त होने के बाद सीमा पुलिस में शामिल हो गए. उन्होंने एक सुनवाई में गलती से 1978 में सेना में शामिल होने का उल्लेख किया. इस गलती के आधार पर न्यायाधिकरण ने उन्हें विदेशी घोषित किया. अजमल हक के मुताबिक, सुनावई के दौरान न्यायाधिकरण ने  कि कोई भी 11 साल की उम्र में सेना में शामिल नहीं हो सकता है. अजमल हक को भी न्यायाधिकरण द्वारा नोटिस दिया गया था.

 मोहम्मद सनाउल्लाह का जन्म 30 जुलाई, 1967 को असम के कामरूप डिस्ट्रिक में बोको क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले कलहिकलाश गांव के निवासी मोहम्मद अली के घर हुआ था.

Related Posts