RSS मानहानि मामले में राहुल गांधी को जमानत, कोर्ट से निकलकर बोले- मजा आ रहा है

RSS के एक कार्यकर्ता ने 2017 में बेंगलुरू की पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या को RSS से जोड़ने को लेकर मानहानि का मामला दर्ज कराया था.

मुंबई: कांग्रेस नेता राहुल गांधी गुरुवार को मुंबई की एक स्‍थानीय अदालत के सामने पेश हुए. RSS के एक कार्यकर्ता की ओर से दायर मानहानि के मामले में अदालत ने 15 हजार रुपये के मुचलके पर गांधी को जमानत दे दी. राहुल ने अदालत में कहा कि वह दोषी नहीं हैं. राहुल गांधी की जमानत राशि पूर्व सांसद एकनाथ गायकवाड़ ने भरी.

कोर्ट से निकलकर उन्‍होंने कहा, “विचारधारा की लड़ाई है. मैं गरीबों, किसानों मजदूरों के साथ खड़ा हूं. आक्रमण हो रहा है, मजा रहा है.” इस्‍तीफे से जुड़े सवालों पर राहुल ने कहा कि उन्‍होंने जो कहना था, वह उन्‍होंने अपनी चिट्ठी में कह दिया है.

एक आरएसएस कार्यकर्ता ने गांधी पर बेंगलुरू की पत्रकार गौरी लंकेश की 2017 में हुई हत्या का संबंध आरएसएस से जोड़ने का आरोप लगाते हुए मानहानि का मामला दायर किया था. शिकायतकर्ता ध्रुतिमन जोशी ने वरिष्ठ कांग्रेस नेता सोनिया गांधी और माकपा नेता सीताराम येचुरी पर भी ऐसे मामले दायर किए थे जिन्हें खारिज कर दिया गया था.

जोशी ने अपनी याचिका में कहा कि लंकेश की हत्या के मुश्किल से 24 घंटों के बाद ही राहुल गांधी ने हत्या के लिए आरएसएस और उसकी विचारधारा को जिम्मेदार ठहरा दिया था.

  • राहुल गांधी ने कहा कि वे दोषी नहीं हैं. उन्हें 15 हजार रुपये के श्‍योरिटी अमाउंट पर रिहा कर दिया गया है. पूर्व सांसद एकनाथ गायकवाड़ ने राहुल गांधी के लिए श्‍योरिटी दी.
  • मिलिंद देवड़ा और अन्य नेताओं की अगुआई में बड़ी संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने मुंबई हवाईअड्डे पर राहुल गांधी का स्वागत किया.

  • महाराष्ट्र में राहुल गांधी के खिलाफ किसी आरएसएस कार्यकर्ता द्वारा दायर की गई यह दूसरी याचिका है. 2014 में, एक स्थानीय कार्यकर्ता राजेश कुंते ने महात्मा गांधी की हत्या के लिए कथित रूप से आरएसएस पर आरोप लगाने के लिए राहुल के खिलाफ याचिका दायर की थी. वह मामला ठाणे में भिवंडी अदालत में लंबित है.

ये भी पढ़ें

तो क्या गांधी परिवार के वफादार मोतीलाल वोरा होंगे कांग्रेस के अगले राष्ट्रीय अध्यक्ष?

‘इतनी हिम्‍मत बहुत कम लोगों में होती है’, राहुल गांधी की चिट्ठी पर भावुक हुईं प्रियंका

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *