विपक्ष के 8 सांसद राज्यसभा से सस्पेंड, कांग्रेस ने साधा निशाना – क्या तानाशाहों ने संसद को बंधक बना लिया?

राज्यसभा में किसान बिलों पर हंगामे के बीच आज सभापति वैंकेया नायडू ने 8 विपक्षी सांसदों को राज्यसभा से सस्पेंड कर दिया. इसको लेकर अब कांग्रेस की तरफ से विरोध जताया गया है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 11:48 am, Mon, 21 September 20
Rajya-Sabha

राज्यसभा में किसान बिलों पर हंगामे के बीच आज सभापति वैंकेया नायडू ने 8 विपक्षी सांसदों को राज्यसभा से सस्पेंड कर दिया. इसको लेकर अब कांग्रेस की तरफ से विरोध जताया गया है. कांग्रेस पार्टी के महासचिव रणदीप सुरजेवाला ने पूछा कि क्या तानाशाहों ने संसद को बंधक बना लिया है.

बता दें कि बीजेपी सांसदों की शिकायत के बाद सभापति ने डेरेक ओ ब्रायन, संजय सिंह, राजू सातव, के के रागेश, रिपुन बोरा, डोला सेन, नसीर हुसैन और एलमरन करीम को एक हफ्ते के लिए राज्यसभा से सस्पेंड कर दिया था. इन सांसदों ने किसान बिल पर रविवार को राज्यसभा में हंगामा किया था. डेरेक ओ ब्रायन ने उपसभापति की कुर्सी के पास आकर रूल बुक की कॉपी फाड़ी थी. संजय सिंह ने हंगामे के दौरान माइक तोड़ा था.

रणदीप सुरजेवाला ने उठाया सवाल

अब विपक्ष के सासंदों को सस्पेंड करने पर रणदीप सुरजेवाला ने सवाल उठाया है. उन्होंने लिखा, क्या देश में संसदीय प्रणाली बची है? क्या संसद में किसान की आवाज़ उठाना पाप है? क्या तानाशाहों ने संसद को बंधक बना लिया है? क्या सत्ता के नशे में सच की आवाज नही सुनती? कितनी आवाज और दबाएंगे मोदी जी? किसान की, मज़दूर की, छोटे दुकानदार की, संसद की…..’

सुरजेवाला ने आगे कहा, ‘संसद में संविधान का गला दबाया जा रहा है. संसद को भी मोदी सरकार ने गुजरात तानाशाही में बदल दिया है. विपक्ष की आवाज, किसान की पुकार को सरकार सुन नहीं रही है. विपक्षी नेताओं को सस्पेंड किया गया.. पीएम मोदी देश आपको माफ नहीं करेगा.. काले कानून पर डिवीजन मांगना क्या गलत है?’ वह आगे बोले कि देश का किसान बोना जानता है तो काटना भी जानता है…बोकर आपकी सरकार बनाई अब काटेगी.

लोकतंत्र की हत्या कर रही बीजेपी: TMC

ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस ने कहा, ‘बिल्कुल विश्वास नहीं होता. बीजेपी विपक्ष को चुप करवाकर लोकतंत्र की हत्या कर रही है. देश के लोगों को अभी आवाज उठानी चाहिए वरना वे मोदी सरकार की तानाशाही के तले दबे होंगे.’

पढ़ें – ट्विटर पर लोग क्यों कह रहे हैं AAP सांसद संजय सिंह ‘गुंडा’

वहीं कांग्रेस सांसद गौरव गोगोई ने लिखा, ‘मैं राज्यसभा सांसदों के सस्पेंशन का विरोध करता हूं. उन सांसदों की सिर्फ यह मांग थी कि बिल को सिलेक्ट कमिटी के पास भेजा जाए.’