नवजोत सिद्धू के खिलाफ गवर्नर से शिकायत, BJP बोली- मंत्रीजी गायब हैं, पर फायदा पूरा ले रहे

बीजेपी नेता तरुण चुग ने राज्‍यपाल को चिट्ठी लिखकर सिद्धू के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

नई दिल्‍ली: पंजाब के ऊर्जा मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने अब तक कामकाज नहीं संभाला है. उनकी गैर-मौजूदगी की शिकायत लेकर बीजेपी अब राज्‍यपाल के पास पहुंची है. बीजेपी नेता तरुण चुग ने राज्‍यपाल को चिट्ठी लिखकर कार्रवाई की मांग की है.

चुग ने कहा, “मैंने पंजाब गवर्नर को पत्र लिखा है. पंजाब में आज संवैधानिक संकट है. एक महीने से ज्‍यादा हो गए हैं और एक मंत्री जो शपथ ले चुके हैं, वे गायब हैं. हालांकि वह सैलरी ले रहे हैं और सारे फायदे उठा रहे हैं.”

बीजेपी नेता ने कहा, “वह (सिद्धू) कहीं चले गए हैं. सीएम और उनके बीच अनबन ने संवैधानिक संकट पैदा कर दिया है. मैं गवर्नर से पंजाब के हित में फैसला करने की अपील करता हूं. अगर मंत्री काम नहीं करना चाहते तो किसी और को उनका विभाग संभालना चाहिए. अगर वह वेतन ले रहे हैं और काम नहीं कर रहे तो कार्रवाई होनी ही चाहिए.”

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने 6 जून को मंत्रिमंडल फेरबदल में नवजोत सिद्धू से शहरी निकाय के साथ पर्यटन एवं सांस्कृतिक मामले विभाग वापस ले लिए थे और उन्हें ऊर्जा एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग का प्रभार सौंपा था. अमरिंदर ने सिद्धू से विभाग वापस लेते हुए उनके खराब प्रदर्शन को जिम्मेदार ठहराया था. मंत्रिमंडल फेरबदल के बाद दोनों के बीच मतभेद खुलकर सामने आ गए थे.

29 जून को वरिष्ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल और अमरिंदर की मुलाकात हुई थी. नवजोत सिद्धू पिछले महीने की शुरुआत में तत्‍कालीन पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी, वरिष्ठ नेता प्रियंका गांधी एवं अहमद पटेल से मिले थे. पार्टी के लिए दोनों नेता महत्वपूर्ण हैं. अमरिंदर सिंह पंजाब में कांग्रेस के लोकप्रिय नेता हैं तो सिद्धू राज्य के बाहर पार्टी के अहम प्रचारक रहे हैं.

ये भी पढ़ें

‘किसी युवा नेता को बनाना चाहिए कांग्रेस अध्यक्ष’, कैप्‍टन अमरिंदर की CWC से अपील

राहुल के भ्रम से मंझधार में कांग्रेस, कामराज प्लान ही लगा सकेगा नैया पार?