ISIS आतंकियों के शादी से इनकार करने पर सादिया ने तैयार की थी खुद की महिला ब्रिगेड

पूछताछ में पता चला है कि सादिया (Sadia) के इस्लामिक स्टेट खुरासान में काफी एडुकेटेड और टेक्नोसेवी महिलाएं भी जुड़ी हुई हैं. ये सभी अपने-अपने कोड नेम से सोशल मीडिया एप टेलीग्राम फेसबुक पर एक-दूसरे से जुड़े हैं.

ISIS के आतंकियों ने जब शादी से किया इनकार तो सादिया (Sadia) ने खुरासान मॉड्यूल का सहारा लिया. मकसद था देश में आतंकी हमलों (Terror Attack) को अंजाम देकर खुरासान मॉड्यूल की नींव को मजबूत करना और हिंदुस्तान में मौजूद ISIS के आतंकियों की जड़ो को काटना. ये अहम खुलासा सादिया शेख ने NIA की पूछताछ में किया है.

जांच में पता चला है कि हाल ही में, पुणे से गिरफ्तार खुरासान मॉड्यूल की आतंकी सादिया शेख देश में जेहादियों की महिला ब्रिगेड तैयार करना चाहती थी. उसी महिला ब्रिगेड की मदद से सादिया न सिर्फ ISIS की विचारधारा को आगे ले जाने वाले खुरासान मॉड्यूल की जड़ों को मजबूत करना चाहती थी, बल्कि उसी महिला ब्रिगेड की मदद से वो विस्फोटक भी इक्कठा करने में जुटी हुई थी.

पूछताछ में पता चला है कि सादिया के इस्लामिक स्टेट खुरासान में काफी एडुकेटेड और टेक्नोसेवी महिलाएं भी जुड़ी हुई हैं. ये सभी अपने-अपने कोड नेम से सोशल मीडिया एप टेलीग्राम फेसबुक पर एक-दूसरे से जुड़े हैं.

आतंकी जाकिर मूसा से शादी करने पहुंची कश्मीर

इससे पहले सादिया ने पूछताछ में बताया था कि देश के प्रति उसके दिल मे इस कदर जहर भरा था कि वो आतंकी जाकिर मूसा से शादी करने पुणे से जम्मू-कश्मीर तक पहुंच गई थी. जाकिर मूसा के साथ मिलकर सादिया घाटी में बड़ी आतंकी साजिश को अंजाम देना चाहती थी. लेकिन, साल 2018 में जम्मू-कश्मीर पुलिस को सादिया शेख के नापाक मंसूबों की जब खबर मिली तो पुलिस ने उसे पकड़ कर रिहेब सेंटर में भेज दिया था. जहां से उसे कुछ महीनों बाद डी-रेडकलाइस करके छोड़ दिया था.

जहांजेब सामी और हिना.

पूछताछ में ये भी पता चला है कि आतंकी जाकिर मूसा ने जब सादिया शेख से शादी करने से इनकार किया तो जम्मू-कश्मीर में ISIS हेड ‘वकार’ के पास भी गयी थी. लेकिन, वकार ने भी सादिया से शादी करने से इनकार कर दिया था. यहीं से सादिया के दिल में ISIS के लिए नफरत पैदा हो गई.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

इसीलिए, सादिया ने सीधे ISIS न जॉइन करके IS खुरासान मॉड्यूल को जॉइन किया. ISIS को नीचा दिखाने के लिए सादिया किसी बड़ी आतंकी साजिश को अंजाम के लिए विस्फोटक जुटाने में लग गई, इसके लिए इसने खुरासान माड्यूल के टेलीग्राम ग्रुप में दूसरे आतंकियों से IED भी मांगा था, जिसकी चैट भारतीय जांच एजेंसियो ने ट्रेस भी की थी.

हैरान करने वाली ये तमाम जानकारियां NIA की हिरासत में मौजूद सादिया अनवर शेख से पूछताछ में पता चली हैं. सूत्रों के मुताबिक, सादिया अनवर शेख ना सिर्फ हाइली रेडकलाइज और कट्टर विचारों की है, बल्कि ISIS के लिए उसकी जहरीली विचारधारा वाली मैगजीन के एडिशन भी निकाल रही थी.

पूछताछ में हुए अहम खुलासे

सादिया शेख की करीबी हिना बशीर और जहांजेब सामी की इंटेरोगेशन रिपोर्ट में भी सादिया को लेकर कई और अहम खुलासे हुए हैं. इंट्रोगेशन रिपोर्ट के मुताबिक, सादिया शेख टेलीग्राम एप्प पर Ahlewafa नाम की आईडी से गिरफ्तार हिना बेग और जहानजेब के अलावा दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद आतंकी अब्दुल्ला बाशित से लगातार कांटेक्ट में थी. इन्हीं के इशारों पर सादिया खुरासान मॉड्यूल में और महिलाओं को रेडकलाइस करके जोड़ने की कोशिश कर रही थी.

जांच में पता चला कि हिना, सादिया, जहानजेब और तिहाड़ जेल में अब्दुला बाशित मिलकर Voice of India नाम की मैगजीन निकाल रहे थे, जिसमें ANTI CAA प्रोटेस्ट के नाम पर भड़काने वाले दिल्ली दंगों के पोस्टर छाप कर भड़काने वाले कंटेंट थे. ये सभी दिल्ली और जम्मू-कश्मीर में बड़े आतंकी हमले, दिल्ली में लोन वुल्फ अटैक की प्लानिंग कर रहे थे.

NIA फिलहाल इस मामले की जांच कर रही है. NIA ने हिना, तिहाड़ में बंद अब्दुला बाशित, जहानजेब पुणे से सादिया और नबील को कस्टडी में लिया है और पूछताछ कर रही है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

Related Posts