सलमान खुर्शीद ने राहुल गांधी पर लगाई तोहमत

सलमान खुर्शीद ने कहा, "हम एक साथ बैठकर यह एनालाइज कर ही नहीं पाए कि हम क्‍यों हारे. हमारी सबसे बड़ी समस्‍या ये है कि हमारा नेता चला गया."

कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता सलमान खुर्शीद मानते हैं कि पार्टी अब तक लोकसभा चुनाव में हार के सदमे से उबर नहीं सकी है. पूर्व विदेश मंत्री ने सोमवार को रिपोर्टर्स से कहा कि शायद कांग्रेस आने वाले विधानसभा चुना भी ना जीत सके. उनके मुताबिक, कांग्रेस का संघर्ष इस हद तक बढ़ गया है कि वह अपना भविष्‍य भी सुनिश्चित कर पाने में सक्षम नहीं है.

सोमवार को खुर्शीद ने कहा कि आम चुनाव में हार के बाद राहुल गांधी जल्‍दबाजी में चले गए. अगस्‍त में उनकी मां को अध्‍यक्ष बनाया गया. संभवत: अगले अध्‍यक्ष का चुनाव अक्‍टूबर के बाद ही होगा. उन्‍होंने यह भी कहा कि पार्टी अभी भी राहुल के प्रति वफादार है.

राहुल के जाने से पार्टी में आया वैक्‍यूम : सलमान खुर्शीद

सलमान खुर्शीद ने कहा, “हम एक साथ बैठकर यह एनालाइज कर ही नहीं पाए कि हम क्‍यों हारे. हमारी सबसे बड़ी समस्‍या ये है कि हमारा नेता चला गया. इससे एक वैक्‍यूम सा हो गया. सोनिया गांधी आगे आईं लेकिन वह सिर्फ इशारा भर नहीं है कि वह सिर्फ तात्‍कालिक तौर पर हैं. मैं सोचता हूं कि काश ऐसा नहीं होता.”

कांग्रेस ने 2019 के लोकसभा चुनाव में सिर्फ 52 सीटें जीती थीं. इसी के बाद तत्‍कालीन अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने इस्‍तीफा दे दिया था. 21 अक्‍टूबर को हरियाणा और महाराष्‍ट्र विधानसभा के चुनाव पार्टी के लिए बेहद अहम हैं. इस दौरान अंतरिम रूप से कांग्रेस की कमान राहुल की मां सोनिया गांधी के हाथ में है.

पार्टी की हरियाणा इकाई के प्रमुख अशोक तंवर ने उम्‍मीदवारों के नाम को लेकर इस्‍तीफा दे दिया. महाराष्‍ट्र में भी संजय निरुपम ने पार्टी छोड़ने की धमकी दे रखी है. उत्‍तर प्रदेश की विधायक अदि‍ति सिंह की तरफ से बगावत के सुर उठ रहे हैं. पूर्व वित्‍त मंत्री और पार्टी के कद्दावर नेता पी चिदंबरम INX मीडिया मामले में कस्‍टडी में हैं. इससे पार्टी की मुसीबत और बढ़ गई है.

ये भी पढ़ें

संजय निरुपम बोले- खड़गे जैसे महान नेता कांग्रेस को निपटा देंगे

हरियाणा कांग्रेस को झटका, अशोक तंवर ने पार्टी से दिया इस्तीफा; ये है वजह