कांग्रेस की खोई हुई ताकत लौटाने को सैम पित्रोदा ने बनाया है ये प्‍लान

पिछले दो लोकसभा चुनावों में कांग्रेस ने अपने इतिहास का सबसे खराब प्रदर्शन किया है. 2019 में पार्टी सिर्फ 52 सीट तक ही सिमटी रही.

नई दिल्‍ली: संसद का बजट सत्र खत्‍म होने के बाद कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक होगी. इस मीटिंग में पार्टी के नए अध्‍यक्ष को लेकर भी चर्चा होगी. हिंदुस्‍तान टाइम्‍स की एक रिपोर्ट कहती है कि पार्टी को दोबारा शीर्ष पर लाने के रास्‍तों पर भी बैठक में चर्चा हो सकती है. गांधी परिवार के करीबी सैम पित्रोदा ने इसे लेकर एक रिपोर्ट भी तैयार की है.

इस रिपोर्ट में 134 साल पुरानी कांग्रेस को फिर से खड़ा करने को करीब 20 सुझाव दिए गए हैं. पिछले दो लोकसभा चुनावों में कांग्रेस ने अपने इतिहास का सबसे खराब प्रदर्शन किया है. 2014 में पार्टी को सबसे कम 44 सीटें मिलीं तो 2019 में पार्टी सिर्फ 52 सीट तक ही सिमटी रही.

सैम पित्रोदा ने जो सुझाव दिए हैं, उनमें से एक कॉर्पोरेट स्‍टाइल अपनाने का भी है. इसके मुताबिक, पार्टी में एक चीफ टेक्निकल ऑफिसर होगा, एक ह्यूमन रिसोर्स विभाग और हर पदाधिकारी के लक्ष्‍य निर्धारित किए जाएंगे.

CWC की मीटिंग में राहुल गांधी से एक बार फिर अपना इस्‍तीफा वापस लेने की गुजारिश की जा सकती है. कांग्रेस महासचिव कथित रूप से पहले ही कह चुकी हैं कि अध्‍यक्ष पद के लिए पार्टी उनके नाम पर विचार न करें.

राहुल ने चुनाव परिणाम आने के बाद मई के आखिर में इस्‍तीफा दिया था मगर CWC ने अब तक उनका इस्‍तीफा मंजूर नहीं किया है. संसद में यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी पार्टी का नेतृत्‍व कर रही हैं मगर खुद पार्टी के पास कोई नेता नहीं है.

ये भी पढ़ें

कांग्रेस अध्यक्ष बनने के सवाल पर प्रियंका गांधी ने कहा, ‘मेरा नाम भी मत लीजिए’

राज्यसभा में उपसभापति से भिड़ गए आनंद शर्मा, कहा- हम से ऐसे व्यवहार न करें