एकादशी पर लॉन्‍च हुआ था इसलिए सफल रहा NASA का मून मिशन : संभाजी भिड़े

संभाजी भिड़े का यह बयान चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम की साफ्ट लैंडिंग फेल होने के बाद आया है. भिड़े भीमा-कोरेगांव हिंसा में आरोपी हैं.

राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ के पूर्व सदस्‍य संभाजी भिड़े का कहना है कि अमेरिका का मून मिशन इसलिए कामयाब हुआ क्‍योंकि वह ‘एकादशी’ पर लॉन्‍च किया गया था. भिड़े का यह बयान इसरो के चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम की साफ्ट लैंडिंग फेल होने के बाद आया है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, सोलापुर के एक कार्यक्रम में भिड़े ने कहा, “चांद की सतह पर उतरने का अमेरिका का मिशन 38 बार फेल हो चुका था. इसके बाद अमेरिकी 39वीं बार में चांद पर पहुंचने में सफल रहे क्‍योंकि वह कोशिश इंडियन टाइम मैनेजमेंट सिस्‍टम पर आधारित थी.

हिंदू कैलेंडर में एकादशी एक माह में दो बार आती है. यह दोनों पक्षों- शुक्‍ल पक्ष और कृष्‍ण पक्ष के 11वें चंद्र दिवस को पड़ती है. इसे आध्‍यात्मिक रूप से बेहद महत्‍वपूर्ण दिन माना जाता है और कई लोग इस दिन आंशिक व्रत रखते हैं.

भिड़े ने पहली बार इस तरह की बात नहीं कही है. कुछ समय पहले उन्‍होंने दावा किया था कि उनके बाग के आम खाकर कई जोड़े को बेटा पैदा हुआ है.

संभाजी भिड़े महाराष्‍ट्र में शिव प्रतिष्‍ठान हिंदुस्‍तान नाम की संस्‍था चलाते हैं. वह जनवरी 2018 में हुई भीमा-कोरेगांव हिंसा में आरोपी हैं.

ये भी पढ़ें

लैंडर विक्रम की झूठी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल, न करें यकीन

जानें कौन हैं ISRO की तारीफ करने वाली पाकिस्‍तान की पहली महिला एस्ट्रोनॉट