भारत के लिए खुशखबरी, सैमसंग मोबाइल ने चीन से कारोबार समेटा

सोनी ( Sony ) ने भी कहा है कि वो स्मार्ट फोन यूनिट चीन से हटाएगी. कंपनी सिर्फ थाइलैंड में मोबाइल बनाएगी. हालांकि एप्पल ( Apple i phone ) की मैनुफैक्चरिंग यूनिट चीन में दमदार तरीके से चल रही है.

सैमसंग ( Samsung  Mobile ) ने चीन से अपना कारोबार समेट लिया है. कंपनी ने चीन में अपने सारे मैनुफैक्चरिंग यूनिट बंद करने का एलान किया है. चीन की लोकल कंपनियों के आगे सैमसंग (Samsung Mobile ) के लिए टिकना मुश्किल हो गया था. सैमसंग के इस फैसले से भारत को फायदा हो सकता है.

पिछले एक साल से सैमसंग ( Samsung ) चीन में कारोबार समेटने का संकेत दे रही थी. पिछले साल ही होईझाऊ में मोबाइल कारखाना बंद किया गया था. एक और कारखाने में प्रोडक्शन को घटा कर आधा कर दिया गया था.

चीन में आर्थिक सुस्ती और लेबर कॉस्ट ज्यादा होना भी इसका कारण बना. सैमसंग ( Samsung ) की तुलना में चीनी कंपनियों ने सस्ती दरों पर उत्पादन शुरू कर दिया था.

सोनी ( Sony ) ने भी कहा है कि वो स्मार्ट फोन यूनिट चीन से हटाएगी. कंपनी सिर्फ थाइलैंड में मोबाइल बनाएगी. हालांकि एप्पल ( Apple i phone ) की मैनुफैक्चरिंग यूनिट चीन में दमदार तरीके से चल रही है.

चीन स्मार्ट फोन समेत मोबाइल सेगमेंट में दुनिया का सबसे बड़ा बाजार है. 2013 में इस बाजार में सैमसंग की हिस्सेदारी 13 परसेंट थी जो घट कर एक परसेंट रह गई है. Huawei Technologies और Xiaomi Corp के आगे विदेशी कंपनियां टिक नहीं पा रही हैं.

हालांकि इसका फायदा भारत को हो सकता है. सैमसंग भारत में मैनुफैक्चरिंग यूनिट शिफ्ट कर सकती है. सैमसंग का एक बड़ा कारखाना पहले से ही दिल्ली के बगल में नोएडा में चल रहा है.