कंगना के खिलाफ नरम पड़े संजय राउत के तेवर, कहा- नहीं दी धमकी, ‘हरामखोर’ का मतलब शैतान

शिवसेना सांसद (Sanjay Raut) ने केंद्र सरकार और भारतीय जनता पार्टी (BJP) आईटी से पर उनके शब्दों को जानबूझकर ट्विस्ट देकर महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) को बदनाम करने का आरोप लगाया.

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के खिलाफ अपशब्द बोलने पर अब शिवसेना (Shiv Sena) नेता और सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) के तेवर नरम पड़ते दिख रहे हैं. संजय राउत ने कंगना को हरामखोर लड़की कहने वाले अपने शब्दों का बचाव किया और साथ ही कहा कि हमने अभिनेत्री को कोई धमकी नहीं दी थी.

शिवसेना सांसद ने केंद्र सरकार और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) आईटी से पर उनके शब्दों को जानबूझकर ट्विस्ट देकर महाराष्ट्र सरकार को बदनाम करने का आरोप लगाया. ऑनलाइन मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, संजय राउत ने कहा कि मैंने बस ये कहा था कि अगर आपको मुंबई में दिक्कत है तो आप मत आइये.

हरामखोर का मतलब बाईमान और शैतान

संजय राउत ने कहा कि हरामखोर वाली टिप्पणी भी दूसरे संदर्भ में थी. मराठी में इसका मतलब बेईमान और शैतान है. मैने हरामखोर शब्द का इस्तेमाल इस संदर्भ में किया था. यह सभी जानबूझकर महाराष्ट्र को बदनाम करने की कोशिशें हैं, केंद्र ऐसा कर रहा है.

ये भी पढ़ें- कंगना की Y कैटेगरी की सुरक्षा पर भड़के महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख, कहा आश्चर्यजनक और दुखद

उन्होंने आगे कहा कि ऐसे कई उदाहरण हैं जहां केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग किया गया. मैंने कभी कंगना को धमकी नहीं दी. बीजेपी आईटी सेल ने जानबूझकर इसे एक अलग एंगल पर मोड़ दिया. मुझे एक बयान दिखाएं जहां मैंने उसे (कंगना) धमकी दी थी.

यह दावा करते हुए कि शिवसेना ने हमेशा महाराष्ट्र या भारत के खिलाफ बोलने वाले लोगों को चुनौती दी है, संजय राउत ने आरोप लगाया कि उन पर हमला इसलिए किया जा रहा है, क्योंकि राज्य में नॉन-बीजेपी सरकार है. शिवसेना नेता ने कहा कि यह मुंबई पुलिस को बदनाम करने की एक सोची समझी कोशिश थी. यह मत भूलिए कि मुंबई पुलिस ने बॉलीवुड को अंडरवर्ल्ड से बचाया है.

कंगना और राउत के बीच रस्साकशी

दरअसल, कंगना और राउत के बीच रस्साकशी, अभिनेत्री के मुंबई की तुलना पीओके के साथ करने वाले बयान के बाद से ही चल रही है. कंगना, सुशांत केस के बाद से ही बॉलीवुड और मुंबई पुलिस पर हमलावर है. वह मुंबई पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल खड़े कर चुकी हैं. तभी से कंगना, शिवसेना के निशाने पर हैं.

ये भी पढ़ें- उद्धव सरकार की कंगना पर बदले की कार्रवाई! अभिनेत्री का आरोप- बीएमसी कल तोड़ देगी मेरा ऑफिस

यह विवाद उस समय और ज्यादा बढ़ गया, जब संजय राउत ने एक चैनल पर बयान देते हुए कंगना को ‘हरामखोर लड़की’ कह डाला. हालांकि पहले संजय राउत ने साफ कर दिया था कि अगर कंगना पीओक वाले बयान पर माफी मांगती हैं, तो ही वो उनके लिए इस्तेमाल किए गए शब्दों पर माफी मांगने के बारे में सोचेंगे.

Related Posts