उत्तर भारत के युवाओं को लेकर विवादित बयान पर केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने पेश की सफाई

गंगवार ने कहा कि कुछ नौकरियों के लिए स्किल की कमी है और इसी के लिए सरकार ने स्किल मंत्रालय की शुरुआत की, ताकि नौकरियों के मुताबिक बच्चों को प्रशिक्षण दिया जा सके.

उत्तर भारत में योग्य युवाओं की कमी वाले बयान को लेकर विवादों में आने वाले केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने अब सफाई पेश की है. केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री का कहना है कि उनके बयान का गलत मतलब निकाला गया है. गंगवार ने कहा कि उन्होंने एक विषेश संदर्भ में वह बात कही थी.

उन्होंने कहा, “नौकरियों की कमी नहीं है. उत्तर भारत आने वाली कंपनियां और रिक्रूटर कहते हैं कि कुछ विशेष नौकरियों के लिए लोगों में जरूरी स्किल की कमी है.” उनका कहना है कि उनके जिस बयान को लेकर विवाद खड़ा किया गया, दरअसल उसका दूसरा मतलब था.

गंगवार ने कहा कि कुछ नौकरियों के लिए स्किल की कमी है और इसी के लिए सरकार ने स्किल मंत्रालय की शुरुआत की, ताकि नौकरियों के मुताबिक बच्चों को प्रशिक्षण दिया जा सके. उनके विवादित बयान को लेकर विपक्षी दलों के नेताओं ने श्रम मंत्री पर जमकर हमला बोला था.

कांग्रेस पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी ने गंगवार के बयान को उत्तर भारतीयों का अपमान करार दिया था. दरअसल उन्होंने पहले कहा था कि, देश में रोजगार की कमी नहीं है. हमारे उत्तर भारत में रिक्रूटर आते हैं, वो सवाल करते हैं कि जिस पद के लिए हम भर्ती कर रहे हैं, उसकी क्वालिटी का व्यक्ति हमें कम मिलता है.

ये भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर पर ब्रिटिश सांसद का बयान- POK भारत का अभिन्न हिस्सा, पाकिस्तान जल्दी करे खाली