सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर का कुख्यात आतंकी नासिर शकील एनकाउंटर में ढेर

पुलिस ने बताया कि नासिर लश्कर-ए-तैयबा (LeT) का A-कैटेगरी का आतंकवादी था, जो आईईडी एक्सपर्ट भी था. इसके अलावा उसके पास से हथियार और गोला बारूद भी बरामद किए गए हैं.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 6:28 pm, Sat, 17 October 20
अनंतनाग मुठभेड़ (FILE)

जम्मू और कश्मीर के अनंतनाग में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हुई मुठभेड़ में एक पाकिस्तानी आतंकी मारा गया है, जिसकी पहचान A-कैटेगरी के आतंकवादी नासिर शकील साब शाक भाई के रूप में हुई है, जो आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा से जुड़ा था.

जम्मू और कश्मीर पुलिस के मुताबिक, अनंतनाग के लारनु इलाके में आतंकवादी की मौजूदगी के बारे में एक विशेष इनपुट पर, पुलिस, सेना की राष्ट्रीय राइफल्स और सीआरपीएफ ने संयुक्त कॉर्डन एंड सर्च ऑपरेशन शुरू किया था. इस बीच आतंकी और सुरक्षाबलों के बीच गोलीबारी शुरू हो गई.

इसके बाद मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयाबा (LeT) का आतंकी नासिर शकीर साब सुरक्षाबलों की गोली का शिकार हो गया. पुलिस ने बताया कि नासिर A-कैटेगरी के आतंकवादी था, जो आईईडी एक्सपर्ट भी था. इसके अलावा उसके पास से हथियार और गोला बारूद भी बरामद किए गए हैं.

इसके अलावा जम्मू-कश्मीर पुलिस और सुरक्षा बलों ने शनिवार को दक्षिणी कश्मीर के पंपोर इलाके से भी लश्कर-ए-तैयबा (LeT) से जुड़े आतंकवादी के सहयोगी को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने कहा कि पकड़े गए आतंकवादी सहयोगी की पहचान पंपोर के जाफ्रोन कॉलोनी निवासी हरीस शैरफ रादर के रूप में हुई है.

आतंकियों को हथियार और गोला-बारूद पहुंचाने में करता था मदद

पुलिस ने कहा, “पुलिस रिकॉर्ड के मुताबिक हरीस पंपोर के काकापोरा इलाकों में लश्कर के आतंकवादियों को रसद, शेल्टर, हथियार और गोला-बारूद पहुंचाने में मदद कर रहा था.”

पुलिस ने कहा कि उसके कब्जे से हथियार व गोला बारूद जब्त कर लिया गया है. पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है.

भारतीय युवकों को ISIS में शामिल करवाने वाले 15 दोषियों को NIA ने सुनाई सजा