एक्ज़िट पोल के असर में 10 साल की सबसे बड़ी बढ़त के साथ बंद हुआ बाज़ार

एक्ज़िट पोल में बीजेपी सरकार की वापसी हो रही है. एक बार फिर स्थिर सरकार की आस में शेयर बाज़ार बल्लियों उछल रहा है.

23 मई अभी दूर है. नतीजे आने बाकी हैं, लेकिन एक्ज़िट पोल्स से बने माहौल के बीच बाज़ार बम-बम है. देश में फिर से स्थिर सरकार की उम्मीद में घरेलू बाज़ार गुलज़ार रहा. गुलज़ार भी इतना कि आज सेंसेक्स बीते 10 साल की सबसे बड़ी बढ़त और रिकॉर्ड हाई के साथ बंद हुआ.

सेंसेक्स 1,421.90 अंक यानि 3.75% की उछाल लेकर 39,352.67 पर बंद हुआ जो कि अब तक की सबसे ऊंची क्लोज़िंग थी. उधर निफ्टी 421.10 अंकों यानि 3.69% की भारी भरकम बढ़त के साथ 11,828.25 पर बंद हुआ जो खुद में रिकॉर्ड है. सोमवार सवेरे ही सेंसेक्स 770.41 अंकों की जानदार बढ़त के साथ खुला था. साफ था कि बाज़ार पर एक्ज़िट पोल्स का असर है.

उधर नेशन नेशनल स्टॉक एक्सचेंज यानि निफ्टी 244.75 अंकों की मजबूती के साथ 11,651.90 पर खुला और दिनभर के कारोबार के बाद 421.10 अंकों यानी 3.69% की बढ़त के साथ 11,828.25 पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान निफ्टी का ऊपरी स्तर 11,845.20 रहा, जबकि इसका निचला स्तर 11,591.70 रहा.

वैसे तो बीएसई के सभी सेक्टर्स में उछाल दिखा लेकिन उनमें भी ज़्यादा तेज़ी कैपिटल गुड्स (5.62%), इंडस्ट्रियल (5.57%), रियल्टी (5.47%), फाइनेंस (4.81%) और बैंक इंडेक्स (4.68%) में दिखी. बीएसई के मिडकैप सूचकांक भी 511.08 अंकों यानी 3.57% की जोरदार तेजी के साथ 14,819.44 पर बंद हुआ जबकि स्मॉल कैप सूचकांक 493.37 अंकों यानी 3.55% की तेजी के साथ 14,380.51 पर रहा.

sensex, एक्ज़िट पोल के असर में 10 साल की सबसे बड़ी बढ़त के साथ बंद हुआ बाज़ार

बीएसई में सबसे तेज़ी भरा प्रदर्शन करनेवाले पांच प्रमुख शेयर रहे-

इंड्सइंड बैंक (8.64%)

एसबीआई (8.04%)

टाटा मोटर्स (7.53%)

यस बैंक (6.73%)

एलएंडटी (6.55%)

लेकिन बजाज ऑटो के शेयर में 1.18% और इन्फोसिस में 0.19% की गिरावट भी दर्ज की गई.

कुल प्रदर्शन की बात करें तो बीएसई के कुल 2,995 शेयरों में से 2,091 में तेज़ी रही जबकि 721 शेयरों में गिरावट दर्ज की हुई. 183 शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ.