अनजाने में LOC पार कर भारत में आ गया था शब्बीर…फिर भारतीय सेना ने पेश की मानवता की मिसाल

32 साल के शब्बीर अहमद ने भी भारतीय सेना द्वारा उसका सही तरीके से ध्यान रखे जाने की बात कही है. उन्होंने कहा, "मुझे भारतीय सेना ने अच्छे से रखा और अब वापिस भेज रहे हैं."
Indian Army Chinar Corps, अनजाने में LOC पार कर भारत में आ गया था शब्बीर…फिर भारतीय सेना ने पेश की मानवता की मिसाल

भारतीय सेना के शौर्य की कहानियां किसी से छिपी नहीं हैं. वहीं पराक्रम का पर्याय भारतीय सेना सद्भाव और मानवीय सहायता के लिए भी दुनियाभर में मानी जाती है. समय-समय पर इसकी मिसाल भी देखने को मिलती रहती है. ऐसी ही एक मिसाल सेना की चिनार कॉर्प्स ने भी पेश की है.

भारतीय सेना ने खुद ट्वीट कर यह जानकारी दी. सेना ने कहा, “POK निवासी शब्बीर ने अनजाने में 17 मई को LOC पार कर ली थी. यह उसके खो जाने का वास्तविक मामला था. उसे अपने मूल मूल्यों के अनुसार भारतीय सेना द्वारा मानवीय सहायता प्रदान की गई थी. शब्बीर को टिथवाल क्रॉसिंग पॉइंट कुपवाड़ा के रास्ते घर लौटाया गया है. हम उसके अच्छे होने की कामना करते हैं.”

32 साल के शब्बीर अहमद ने भी भारतीय सेना द्वारा उसका सही तरीके से ध्यान रखे जाने की बात कही है. उन्होंने कहा, “मुझे भारतीय सेना ने अच्छे से रखा और अब वापिस भेज रहे हैं.”

ये भी पढ़ें: SPG सुरक्षा हटाए जाने पर बोलीं प्रियंका गांधी, ‘राजनीति है…होती रहेगी’

Related Posts