असम को देश से तोड़ने की बात करने वाला शरजील इमाम जहानाबाद से गिरफ्तार

देशद्रोह के आरोप में शरजील की तलाश की जा रही थी. शरजील को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है.

नागरिकता कानून के विरोध में हो रहे प्रदर्शन में असम को भारत से अलग करने की बात कहने वाले जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी के छात्र शरजील इमाम को बिहार के जहानाबाद से गिरफ्तार कर लिया गया है. शरजील को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है. मालूम हो कि शरजील इमाम की देशद्रोह के आरोप में तलाश की जा रही थी.

पुलिस ने बताया कि दिल्ली क्राइम ब्रांच पुलिस की एक टीम ने बिहार पुलिस की मदद से शरजील को जहानाबाद जिले के काको क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया गया है. फिलहाल गिरफ्तारी के बाद शरजील को काको थाना में रखा गया है और उससे पूछताछ की जा रही है.

बिहार के जहानाबाद में शरजील के गिरफ्तार होने के बाद सूबे के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि किसी को भी ऐसा कुछ नहीं करना चाहिए जो राष्ट्र के हित में न हो. सजा का ऐलान अदालत करेगी.

इससे पहले जहानाबाद के पुलिस सूत्रों ने बताया था कि केंद्रीय जांच एजेंसी की टीम ने शरजील की गिरफ्तारी के लिए जहानाबाद के काको स्थित पैतृक आवास पर रविवार को छापेमारी की थी. इस दौरान घर के सदस्यों को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई, हालांकि तब शरजील वहां नहीं मिला था.

विवादित बयान देने वाले शरजील के खिलाफ उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ और असम में देशद्रोह का मामला दर्ज हो चुका है. बता दें कि विवादित बयानबाजी करने पर शरजील इमाम को जेएनयू प्रशासन ने 3 फरवरी से पहले यूनिवर्सिटी प्रशासन के सामने अपना बयान दर्ज कराने के लिए कहा है.

ये भी पढ़ें: गुजरात दंगे के 17 दोषियों को SC से मिली जमानत, आध्यात्मिक कार्य करने का आदेश