पंजाब में सिख परिवार ने मस्जिद के लिए दान की 400 गज जमीन

मस्जिद के लिए जमीन दान करने वाले सिख के परिवार का कहना है कि उनके गांव में किसी भी धर्म को लेकर कोई भेदभाव नहीं है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 6:26 pm, Sat, 28 December 19

मोगा के गांव माछी में एक सिख परिवार ने मुस्लिम भाईचारे में मस्जिद के लिए अपनी 10 लाख की  16 मरले यानी 400 गज जमीन दान कर एक मिसाल कायम की है. गांव में मोगा बरनाला रोड पर बनी 250 साल पुरानी मस्जिद जब हाईवे 71 बनाने के प्रोजेक्ट में आई तो मुस्लिम समुदाय में मायूसी छा गयी. इसके लिए उन्होंने अधिकारियों से भी गुहार लगाई और राजनीतिक लोगो से भी मस्जिद के लिए जगह की मांग की.

वहीं उन्होंने गांव की पंचायत से भी गुहार लगाई की गांव में उनके 15 के करीब परिवार है और उनमें मुस्लिमों की संख्या 100 के करीब है, इसलिए उनके लिए मस्जिद की जमीन मुहैया करवाई जाए. मगर पंचायत की जमीन बहुत दूर होने के चलते उनके लिए ठीक नहीं लगी.

इसके बाद गांव के दर्शन सिंह के सिख परिवार ने गांव के बीचों बीच अपनी 16 मरले जमीन मुस्लिम लोगों को मस्जिद बनाने के लिए दान में दे दी. जिससे इस गांव में हिंदू-मुस्लिम-सिख-ईसाई भाईचारे और मिलजुल के रहने का संदेश मिला. वहीं मुस्लिम भाईचारे में खुशी है कि एक सिख परिवार ने उनकी मस्जिद के लिए जमीन दान में दे दी.

मोगा के गांव माछीके में मोगा बरनाला हाईवे 71 बनने के चलते 250 साल पुरानी मस्जिद शहीद होने जा रही जिसके चलते मुस्लिम भाईचारे के लिए सिख परिवार ने अपनी 16 मरले जमीन दान में दे दी और यह संदेश दिया कि, ‘सब धर्म एक हैं, सब एक जैसा खाते हैं, एक जैसे ही दिखते हैं सबका खून एक है तो फिर धर्म के नाम पे बटवारा क्यों?’

वहीं इस मामले में मस्जिद के लिए जमीन दान करने वाले दर्शन सिंह के परिवार का कहना है कि उनके गांव में किसी भी धर्म को लेकर कोई भेदभाव नहीं है. सब मिलजुल कर रहते हैं और सभी धर्मों का सम्मान करते हैं. उन्होंने कहा कि धर्म की राजनीति नहीं करनी चाहिए और मिलजुल कर रहना चाहिए.

मुस्लिम समुदाय ने भी मस्जिद के लिए जमीन दान करने पर सिख परिवार का शुक्रिया अदा किया है. उन्होंने कहा, कि आज के दौर में तो छोटे से जमीन के टुकड़े के लिए कितना झगड़ा-फसाद हो जाता है लेकिन इस परिवार ने मोगा में मुस्लिम भाईचारे में नागरिकता बिल को लेकर रोष प्रदर्शन किया और मस्जिद के लिए जगह भी दी.

ये भी पढ़ें-

नागरिकों को पाकिस्तान भेजने का हक ‘एसपी साहब’ को किसने दिया?

डोंगरी में मना दाऊद का जन्मदिन, सोशल मीडिया पर लिखा हैप्पी बर्थडे बॉस, उठा ले गई क्राइम ब्रांच