कमल हासन पर रैली के दौरान फेंकी गई चप्‍पल, 10 लोग पुलिस ह‍िरासत में

अभी यह स्‍पष्‍ट नहीं है कि अभिनेता से राजनेता बने कमल हासन को निशाना क्‍यों बनाया गया.

नई दिल्‍ली: मक्कल नीधि मय्यम प्रमुख कमल हासन पर तमिलनाडु में चुनाव प्रचार के दौरान चप्‍पल फेंके जाने की घटना सामने आई है. पुलिस के अनुसार, बुधवार शाम तिरुप्‍परनकुंदरम में प्रचार करते हुए उनकी गाड़ी की ओर चप्‍पल फेंका गया. पुलिस के अनुसार, इस मामले में 10 लोगों को हिरासत में लिया गया है. चप्‍पल कमल हासन को नहीं लगी, बल्कि भीड़ पर जा गिरी.

गोडसे पर बयान से खड़ा हुआ था विवाद

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अभी यह स्‍पष्‍ट नहीं है कि हासन को निशाना क्‍यों बनाया गया. दरअसल, तीन दिन पहले हासन ने यह कहकर विवाद को जन्‍म दे दिया था कि ‘भारत का पहला अतिवादी हिंदू ही था.’ उन्होंने कहा कि ‘स्वतंत्र भारत का पहला अतिवादी हिंदू था जिसका नाम नाथूराम गोड़से था.‘ ANI के अनुसार तमिलनाडु के अरावाकुरूची में चुनाव प्रचार के दौरान उन्‍होंने कहा था, “मैं ये इसलिए नहीं बोल रहा हूं क्योंकि यहां काफी मुस्लिम हैं. ये बात मैं यहां महात्मा गांधी प्रतिमा के सामने कह रहा हूं. स्वतंत्र भारत का पहला आतंकवादी हिंदू है, उसका नाम है- नाथूराम गोडसे.”

बीजेपी ने चुनाव आयोग से शिकायत पर हासन पर पांच दिन का प्रतिबंध लगाने की मांग की थी. शिकायत में दावा किया गया है कि बयान सोच-विचार कर छवि धूमिल करने और ‘समुदायों के बीच सौहार्द व भाईचारा’ को बिगाड़ने की नीयत से दिया गया, जो भारतीय दंड संहिता की धारा 153 ए के तहत दंडनीय है.

ये भी पढ़ें

‘हिंदू आतंकवादी टिप्पणी के लिए कमल हासन की जीभ काट दी जानी चाहिए’, तमिलनाडु के मंत्री का बयान

Video:’हिन्दू तुम्हारे जैसे सर्प को दूध देकर पालता है’, कमल हासन पर गिरिराज का पलटवार