दिल्ली अग्निकांड और रेप घटनाओं से दुखीं सोनिया गांधी, नहीं मनाएंगी आज अपना 73वां जन्मदिन

साल 1998 में सोनिया गांधी पार्टी अध्यक्ष बनी थी, लेकिन साल 2017 में उन्होंने अपना यह पद छोड़ा और अपने बेटे राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाया.

Sonia Gandhi

देश में महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराध और दिल्ली अग्निकांड में 43 लोगों की मौत से कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी काफी दुखी हैं और इसलिए ही उन्होंने फैसला किया है कि वे आज अपना 73वां जन्मदिन नहीं मनाएंगी.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सोनिया गांधी देश में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों और पीड़ितों के प्रति दिखाई गई उदासीनता से दुखी हैं.

अपना जन्मदिन नहीं मनाने का सोनिया गांधी का फैसला उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की मौत और हाल ही में हैदराबाद में एक युवा वेटरनरी डॉक्टर के साथ बलात्कार और हत्या करने के मामले के बाद आया है.

हाल के दिनों में देश के कई हिस्सों से महिलाओं के प्रति हिंसा और यौन शोषण के मामले सामने आए हैं, जिनसे लोगों में गुस्सा है.

सोनिया गांधी के जन्मदिन के अवसर पर उनके चाहने वाले उन्हें ढेरों शुभकामनाएं दे रहे हैं. इसी बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र ने भी कांग्रेस अध्यक्ष को जन्मदिन की बधाई दीं. पीएम मोदी ने अपने ट्विटर पर लिखा, “सोनिया गांधी जी को जन्मदिन की बधाई. उनकी लंबी उम्र और अच्छे स्वास्थ्य के लिए प्रार्थना करता हूं.”

साल 1998 में सोनिया गांधी पार्टी अध्यक्ष बनी थी, लेकिन साल 2017 में उन्होंने अपना यह पद छोड़ा और अपने बेटे राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाया, जिन्होंने 2019 लोकसभा चुनाव के बाद अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था.

सोनिया गांधी के अध्यक्ष पद पर रहते हुए, 2004 से 2014 तक कांग्रेस की सरकार रही, लेकिन 2014 में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सत्ता में आई और कांग्रेस को हार का मुंह देखना पड़ा.

 

ये भी पढ़ें-  दिल्ली अग्निकांड: उसी फैक्ट्री में फिर लगी आग, आज होगा 43 मृतकों का पोस्टमार्टम

Citizenship Amendment Bill 2019: जानें, दोनों सदनों में क्या है वोटों का गणित ?

Related Posts