केवल सोशल मीडिया से नहीं चलेगा काम, सड़क पर उतरना होगा, कांग्रेसियों को सोनिया गांधी की नसीहत

सोनिया गांधी ने बैठक में कहा कि देश की आर्थिक स्थिति गंभीर है. घाटा बढ़ रहा है. लोगों का विश्वास डोल रहा है.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अगुवाई में पार्टी महासचिवों, प्रदेश अध्यक्षों, पार्टी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों एवं कई अन्य वरिष्ठ नेताओं की बैठक शुरू हो गई है. बैठक में सोनिया के साथ पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, पार्टी के वरिष्ठ नेता एके एंटनी, अहमद पटेल, गुलाम नबी आजाद, मल्लिकार्जुन खड़गे, अशोक गहलोत और भूपेश बघेल मौजूद हैं.

‘गंभीर है देश की आर्थिक स्थिति’
सोनिया ने बैठक में कहा कि देश की आर्थिक स्थिति गंभीर है. घाटा बढ़ रहा है. लोगों का विश्वास डोल रहा है. आर्थिक नुकसान से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए सरकार केवल बदले की राजनीति मे व्यस्त है.

सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस नेताओं को नसीहत देते हुए सोनिया गांधी ने कहा सिर्फ सोशल मीडिया से काम नहीं चलेगा, सड़क पर उतरना होगा.

‘खतरे में है लोकतंत्र’
उन्होंने कहा, “आज लोकतंत्र खतरे में है. सबसे खतरनाक अंदाज में जनादेश का दुरुपयोग किया जा रहा है. स्वतंत्रता सेनानियों तथा गांधी, पटेल, अंबेडकर जैसे नेताओं के सच्चे संदेशों का गलत इस्तेमाल कर वह अपना नापाक एजेंडा पूरा करना चाहते हैं.”

बैठक में पार्टी के कई महासचिव-प्रदेश प्रभारी, प्रदेश अध्यक्ष और विधायक दल के नेता शामिल हैं. बैठक में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती से जुड़े आयोजनों, सदस्यता अभियान, पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम के साथ विभिन्न राजनीतिक मुद्दों पर मंथन हो रहा है.

ये भी पढ़ें-

अच्छी सड़कों की वजह से होती हैं ज्यादातर दुर्घटनाएं, बोले कर्नाटक के डिप्टी CM करजोल

चिदंबरम की जमानत याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट ने CBI से मांगा जवाब, 23 सितंबर को अगली सुनवाई

महामृत्‍युंजय मंत्र से बेहतर हो सकते हैं मरीज, अब RML कर रहा स्‍टडी