दिल्ली हिंसा को लेकर संसद में धक्का-मुक्की पर स्पीकर की वॉर्निंग, ऐसी हरकतों पर कर दूंगा सस्पेंड

स्पीकर ओम बिरला ने कहा, 'कल की धक्का-मुक्की पर भी सर्वदलीय बैठक में दो बातों पर चर्चा हुई. सदन के अंदर सत्ता या फिर प्रतिपक्ष का कोई भी सदस्य एक-दूसरे की सीट पर नहीं जाएगा. अगर जाएगा तो मैं पूरे सत्र के लिए उन्हें निलंबित करूंगा.'
Speaker om birla warning on the clash, दिल्ली हिंसा को लेकर संसद में धक्का-मुक्की पर स्पीकर की वॉर्निंग, ऐसी हरकतों पर कर दूंगा सस्पेंड
File Photo

लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने सोमवार को सदन में दिल्ली हिंसा पर हुए हंगामे और धक्का-मुक्की पर विपक्षी सांसदों को कड़ी चेतावनी दी. उन्होंने कहा कि अगर कोई सांसद दूसरे की सीट के करीब गया, तो वह पूरे सत्र के लिए उसे सस्पेंड कर देंगे. दिल्ली हिंसा को लेकर मंगलवार को संसद में बजट सत्र के दूसरे चरण के दूसरे दिन भी हंगामा जारी है.

लोकसभा में बीते दिन सांसदों के बीच हुए धक्का-मुक्की के बाद आज कार्यवाही शुरू होते ही फिर हंगामा शुरू हो गया. कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दलों के ज्यादातर सांसद दिल्ली हिंसा पर सदन में तुरंत चर्चा की मांग कर रहे थे. दूसरी ओर स्पीकर ओम बिड़ला ने प्रश्नकाल के बाद इस विषय पर चर्चा कराए जाने की बात कही.

स्पीकर ओम बिरला ने क्या कहा

स्पीकर ने दिल्ली हिंसा पर तुरंत चर्चा की मांग पर कहा, ‘इस पर सहमति बनी थी कि गंभीर विषय आएगा तो प्रश्नकाल के बाद ही उस पर चर्चा होगी. कल की धक्का-मुक्की पर भी सर्वदलीय बैठक में दो बातों पर चर्चा हुई. सदन के अंदर सत्ता या फिर प्रतिपक्ष का कोई भी सदस्य एक-दूसरे की सीट पर नहीं जाएगा. अगर जाएगा तो मैं पूरे सत्र के लिए उन्हें निलंबित करूंगा. सदन इसी तरह से चलेगा.’

हंगामा बढ़ने के बाद लोकसभा स्थगित

चेतावनी दिए जाने के बाद सदन में फिर से हंगामा शुरू हो गया. हंगामा बढ़ने के बाद स्पीकर ने सदन की कार्यवाही को 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया था. इससे पहले विपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि हम आम लोगों की नुमाइंदे हैं. दिल्ली में लाशों की तादाद बढ़ रही है. हमें यह विषय उठाने का अधिकार दीजिए. दिल्ली जल रही है. पूरे देश की निगाह इस पर टिकी हुई है. सरकार इस पर चर्चा नहीं करना चाहती है.

सोमवार को कैसे हुई धक्का-मुक्की

दिल्ली हिंसा के मुद्दे पर कांग्रेस सहित विपक्षी सदस्यों ने लोकसभा में सोमवार को भारी हंगामा किया. कांग्रेस सांसद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के इस्तीफे की मांग पर अड़े थे. इस दौरान कांग्रेस और बीजेपी सदस्यों में धक्का-मुक्की की घटना भी सामने आई. घटना के वक्त बीजेपी सांसद संजय जायसवाल प्रत्यक्ष कर विवाद से विश्वास विधेयक, 2020 पर चर्चा में हिस्सा ले रहे थे. जायसवाल ने बताया कि कांग्रेस सांसदों का समूह आक्रामक तरीके से उनकी ओर बैनर लेकर बढ़ा. बीजेपी सांसदों ने बचाव करना चाहा तो दूसरी ओर से धक्का-मुक्की की गई.

ये भी पढ़ें –

LIVE : दिल्‍ली हिंसा पर संसद में हंगामा, राज्‍यसभा 2 बजे तक के लिए स्‍थगित

BJP की मीटिंग में बोले पीएम मोदी- शांति और एकता बेहद जरूरी, सबसे पहले देश, बाद में पार्टी

Related Posts