जम्मू कश्मीर: पहले फहरता था राज्य का झंडा, आर्टिकल 370 हटा तो सचिवालय पर लहराया तिरंगा

जम्मू कश्मीर राज्य को मिले विशेषाधिकार में अलग झंडे का प्रावधान था, जो कि आर्टिकल 370 के दो खंड हटाने के साथ ही हट गया है.
आर्टिकल 370, जम्मू कश्मीर: पहले फहरता था राज्य का झंडा, आर्टिकल 370 हटा तो सचिवालय पर लहराया तिरंगा

जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले आर्टिकल 370 हटाने के बाद अब सचिवालय पर लहरा रहे राज्य के झंडे को भी हटा दिया गया है. अब जम्मू कश्मीर सचिवालय पर तिरंगा लहरा रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अब सभी सरकारी विभागों पर राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा ही लहराएगा.

जम्मू कश्मीर राज्य को मिले विशेषाधिकार में अलग झंडे का प्रावधान था, जो कि आर्टिकल 370 के दो खंड हटाने के साथ ही हट गया है. इसके तहत राज्य का अलग संविधान और अलग दंड संहिता भी होती थी. लेकिन अब आर्टिकल 370 को हटाए जाने के बाद राज्य में भारतीय दंड संहिता ही लागू होगी.

अगस्त महीने की शुरुआत में गृह मंत्री अमित शाह ने राष्ट्रपति के हस्ताक्षर वाला संकल्प संसद के सदनों में पारित किया था, जिसके तहत जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 के दो खंडों को हटा दिया गया था और उसे दो केंद्रशाषित प्रदेशों में विभाजित कर दिया था.

केंद्र सरकार द्वारा किए गए इन बदलावों के बाद अब जम्मू कश्मीर के राज्यपाल को उपराज्यपाल माना जाएगा. जम्मू कश्मीर जब राज्य था तब उसकी विधानसभा का कार्यकाल भी 6 साल का होता था, जो कि अब केंद्र शाषित प्रदेश बनने के बाद अन्य राज्यों की तरह 5 साल का ही होगा.

ये भी पढ़ें: UAE हुआ ‘मोदीमय’ तो पाकिस्तान सीनेट के चेयरमैन सादिक संजरानी ने रद्द की यात्रा

Related Posts