पराली से दिल्ली में फिर लौटेगा प्रदूषण! नासा की तस्वीरों में दिखा धुएं का गुबार

दिल्ली वालों को फिर से प्रदूषण (Pollution in Delhi) का सामना करना पड़ सकता है. दरअसल, पंजाब में पराली जलाए (Stubble Burning) जाने के मामलों में पिछले 5 दिनों में तेजी आई है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 7:52 am, Fri, 25 September 20
Stubble-Burning
पराली से हो रहा प्रदूषण (फाइल फोटो)

कोरोना के बीच दिल्ली वालों को फिर से प्रदूषण (Pollution in Delhi) का सामना करना पड़ सकता है. दरअसल, पंजाब में पराली जलाए (Stubble Burning) जाने के मामलों में पिछले 5 दिनों में तेजी आई है. ऐसा नासा द्वारा शेयर की गईं सेटेलाइट इमेज से पता चला है. नासा ने इस बात की चेतावनी दी है कि दिल्ली के ऊपर धुएं का गुबार देखा गया है, जिसकी वजह से आनेवाले दिनों में शहर की हवा की गुणवक्ता खराब हो सकती है.

दिल्ली सरकार के डेटा के मुताबिक, पिछले साल दिल्ली के प्रदूषण (Pollution in Delhi) में पराली (Stubble Burning) की हिस्सेदारी 44 फीसदी थी. दिल्ली सरकार के आंकड़े के मुताबिक, पंजाब में पिछले साल 9 मिलियन टन और हरियाणा में 7 मिलियन टन पराली जलाई गई थी.

पराली जलने पर EPCA ने जताई चिंता

पराली जलाए जाने की घटनाओं पर पर्यावरण प्रदूषण (रोकथाम और नियंत्रण) प्राधिकरण (EPCA) ने भी चिंता जताई है. EPCA ने मंगलवार को ही पंजाब और हरियाणा के चीफ सेक्रेटरी को पत्र लिखकर पराली जलाए जाने को कंट्रोल करने को कहा है. बताया गया है कि जल्दी कदम उठाने से ही सर्दियों में ज्यादा प्रदूष होने से रोका जा सकता है.

पढ़ें – ठंड में दिल्ली-NCR का वायु प्रदूषण कोरोना को बना देगा और भी खतरनाक

बताया गया है कि फिलहाल तो राहत है क्योंकि हवा 20-25 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से चलती रहेगी लेकिन आनेवाले दिनों में जब हवा की रफ्तार धीमी हुई और पराली फिर भी जलती रही तो दिक्कत बढ़ जाएगी.