बीजेपी सांसद ने कांग्रेस MP को बताया ‘राहुल गांधी खान’, कहा- अब वो फंस गए हैं!

अपने आखिरी ट्वीट में सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने कहा, "अब राहुल गांधी खान सच में द डेविल और द डीप सी के बीच में फंस गए हैं."

बीजेपी सांसद सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी पर निशाना साधा है. नागरिकता मुद्दे और विदेशी संपत्ति से जुड़े विवाद को लेकर स्‍वामी ने एक के बाद एक ट्वीट किए. स्‍वामी ने राहुल गांधी को ‘राहुल गांधी खान’ कहकर संबोधित किया है.

पहला ट्वीट: पप्‍पू अपने ही जाल में फंस गया. गृह मंत्रालय ने राहुल गांधी को उनकी नागरिकता के सम्‍बंध में नोटिस भेजा है. मंत्रालय ने सफाई क्‍यों मांगी और नोटिस के पीछे क्‍या विचार है?
दूसरा ट्वीट: हमें समझना होगा कि पूरा मामला राहुल गांधी की नागरिकता से नहीं जुड़ा है. कंफ्यूज हो गए? पूरा मामला राहुल गांधी के विदेशों में संपत्तियों से जुड़ा हुआ है. नागरिकता का सवाल सिर्फ एक कवर है.
तीसरा ट्वीट: अगर राहुल मंत्रालय को जवाब देते हैं कि वह भारतीय नागरिक थे और हैं तो सवाल उठता है कि ब्रिटिश प्रॉपर्टी और ब्रिटिश बैंकों में जमा पैसों का मालिक कौन है.
चौथा ट्वीट: फिर राहुल गांधी को कहना होगा कि UK में बिजनेस करने के लिए उन्‍हें फर्जी ब्रिटिश नागरिकता दिखानी पड़ी मगर वह भारतीय नागरिक हैं. इससे दो बातें होंगी. पहली कि उन्‍होंने UK में प्रॉपर्टी कैसे खरीदी.
पांचवां ट्वीट: भारतीय कानून साफ कहता है कि किसी भी नागरिक को विदेश में प्रॉपर्टी खरीदने के लिए गृह और विदेश मंत्रालय से अनुमति लेनी होती है जो राहुल गांधी ने नहीं किया.
छठा ट्वीट: दूसरा मसला ये है कि 2005 में जब UPA सत्‍ता में थी तब उन्‍होंने परमिशन क्‍यों नहीं ली. वजह आसान है. जब प्रॉपर्टी खरीदने के लिए ब्‍लैक मनी का इस्‍तेमाल हो तो कोई उसके बारे में क्‍यों बताएगा.
सातवां ट्वीट: इसकी वजह से उन्‍हें (राहुल) यह जवाब देना पड़ेगा कि उन्‍होंने ब्रिटिश नागरिकता ली थी. एक बार वह ये मान लें तो भारतीय नागरिकता अपने आप खारिज हो जाती है.
आठवां ट्वीट: अगर उनकी UK में प्रॉपर्टी है तो उन्‍होंने सरकार से क्‍यों छिपाई. क्‍या वजह थी और वह UK में क्‍या बिजनेस कर रहे थे? क्‍योंकि उनका ऑफिस लंदन से 90 मील दूर एक सुनसान गांव में हैं जहां कोई नहीं रहता.
नौंवा ट्वीट: मान लेते हैं कि उन्‍होंने बिजनेस चलाने के लिए ऑफिस लिया होगा तो वह 2004 से बंद क्‍यों है. वह इनकम कहां से आई जिसके लिए उन्‍होंने UK में इनकम टैक्‍स भरा और IT रिटर्न फाइल किया. ये साबित करता है कि यह ब्‍लैक मनी की लॉन्ड्रिंग थी.
दसवां ट्ववीट: राहुल गांधी UK की अपनी प्रॉपर्टी छोड़ने का फैसला करते हैं और भारत में सांसद बने रहना चाहते हैं जहां उन्‍हें झूठ बोलना पड़ेगा कि वह ब्रिटिश नागरिक नहीं हैं. ऐसे हालात में, भारत सरकार उनकी विदेशी संपत्तियां सीज कर सकती है क्‍योंकि कागजातों पर राहुल गांधी के दस्‍तखत हैं.
ग्‍यारवां ट्वीट: अगर वह यह मान लेते हैं कि वह ब्रिटिश नागरिक हैं तो उनकी भारतीय नागरिकता खत्‍म हो जाएगी. और तो और, उनकी सांसदी चली जाएगी और उन्‍हें देश और संसद को सालों तक धोखा देने के लिए जेल भी जाना पड़ सकता है.

अपने आखिरी ट्वीट में सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने कहा, “अब राहुल गांधी खान सच में दुविधा में फंस गए हैं.” उन्‍होंने अंग्रेजी के फ्रेज Between the Devil and the Deep Blue Sea का इस्‍तेमाल किया.

ये भी पढ़ें

BJP का सबसे ईमानदार आदमी कौन? राहुल गांधी ने वीडियो ट्वीट कर बताया

Exit Polls: हारी हुई पार्टी की तरह महाराष्‍ट्र-हरियाणा में लड़ी कांग्रेस, अब सूपड़ा-साफ के कगार पर!