सुप्रीम कोर्ट ने ED को दी आम्रपाली ग्रुप के डायरेक्टर को कस्टडी में लेने की इजाजत

आम्रपाली मामले में सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर जेपी मॉर्गन निर्माण के लिए तय रकम देने से हीला-हवाला करता है तो ED उनकी संपत्ति को भी अटैच कर सकता है.
Amrapali Group Case, सुप्रीम कोर्ट ने ED को दी आम्रपाली ग्रुप के डायरेक्टर को कस्टडी में लेने की इजाजत

सुप्रीम कोर्ट ने ED को आम्रपाली ग्रुप के डायरेक्टर को कस्टडी में लेने की इजाजत दे दी है. सुप्रीम कोर्ट ने ED को शिव प्रिया, अनिल शर्मा, अजय कुमार की कस्टडी में लेकर पूछताछ की इजाजत दी है.

सुप्रीम कोर्ट ने मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में पूछताछ के लिए कस्टडी की इजाजत ED को दी है. ED को तुरंत कस्टडी में लेने को कहा गया है. हालांकि जब पूछताछ पूरी हो जाए तब फिर से उनको मंडावली जेल में शिफ्ट किया जाने का आदेश सुप्रीम कोर्ट ने दिया है.

आम्रपाली मामले में सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अगर जेपी मॉर्गन निर्माण के लिए तय रकम देने से हीला-हवाला करता है तो ED उनकी संपत्ति को भी अटैच कर सकता है.

कोर्ट ने कहा कि आम्रपाली की सम्पदा को औने-पौने दाम पर नहीं बल्कि बाजार भाव के मुताबिक ऐसे दाम पर बेचा जाए, ताकि ज्यादा से ज्यादा मूल्य हासिल किया जा सके. सुप्रीम कोर्ट ने 100 करोड़ की सम्पदा सिर्फ 9 करोड़ में बेचे जाने पर भी फटकार लगाई है.

ये भी पढ़ें: सुनवाई से पहले उन्नाव रेप केस पीड़िता के पिता का इलाज करने वाले डॉक्टर की संदिग्ध मौत

Related Posts