सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, यूनिटेक को टेक ओवर करेगी केंद्र सरकार

सुप्रीम कोर्ट ने यूनिटेक के 7 सदस्यों का नया बोर्ड बनाया है. हरियाणा के पूर्व IAS वाई एस मालिक यूनिटेक के नए CMD बनाए गए हैं.

यूनिटेक बायर्स मामले में सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला सामने आया है. अब केंद्र सरकार यूनिटेक को टेक ओवर करेगी.

सुप्रीम कोर्ट ने यूनिटेक के 7 सदस्यों का नया बोर्ड बनाया है. सुप्रीम कोर्ट ने यूनिटेक के नए बोर्ड के सदस्य YS मालिक, अनूप कुमार मित्तल, निरंजन हीरा नंदनी, आहूजा, पी श्री राम और गीतू विरमानी होंगे. हरियाणा के पूर्व IAS वाई एस मालिक यूनिटेक के नए CMD बनाए गए हैं.

सुप्रीम कोर्ट यूनिटेक बायर्स मामले में 2 महीने तक सुनवाई नहीं करेगा हालांकि यूनिटेक के खिलाफ चल रही जांच बंद नही होगी.

सर्वोच्च न्यायालय की तरफ से ये साफ किया गया है यूनिटेक प्रोजेक्ट को रफ्तार देने के लिए बदलाव किए गए हैं.

बता दें कि फोरेंसिक ऑडिटर की रिपोर्ट के मुताबिक यूनिटेक लिमिटेड ने साल 2006-2014 के बीच खरीददारों से 14,270 करोड़ की कीमत के 29,800 घरों के लिए रुपये जुटाए. वहीं 1,805 करोड़ रुपये 6 वित्तीय संस्थानों से एकट्ठे किए गए, जबकि जुटाई गई कुल रकम का लगभग 5,800 करोड़ रुपया ही इस्तेमाल किया गया है.

यूनिटेक बायर्स मामले में पैसों की हेरा-फेरी के आरोप में प्रमोटर संजय चंद्रा और उनके भाई अजय चंद्रा तिहाड़ जेल में बंद हैं.

ये भी पढ़ेंः

दिल्ली चुनाव: AAP का ‘सिविल वॉर’ Vs गंभीर का ‘रियल सिविल वॉर’, मतदान से पहले शुरू हुई ‘मीम जंग’

जनरल करियप्‍पा ने क्‍यों की थी संविधान को खत्‍म कर मिलिट्री शासन की वकालत?

क्या हुआ था 19 जनवरी की उस सर्द काली रात को, याद कर आज भी सिहर उठते हैं कश्मीरी पंडित