yasin malik-yasin mailk arrested-35A-jammu and kashmir-Jammu kashmir 35A-Separatist yasin malik-Separatist leaders-Separatist-pulwama terrorist attack-pulwama attack-kashmir-supreme court-supreme court 35A, अलगाववादी नेता यासीन मलिक गिरफ्तार, सुरक्षा कारणों से हुई कार्रवाई
yasin malik-yasin mailk arrested-35A-jammu and kashmir-Jammu kashmir 35A-Separatist yasin malik-Separatist leaders-Separatist-pulwama terrorist attack-pulwama attack-kashmir-supreme court-supreme court 35A, अलगाववादी नेता यासीन मलिक गिरफ्तार, सुरक्षा कारणों से हुई कार्रवाई

अलगाववादी नेता यासीन मलिक गिरफ्तार, सुरक्षा कारणों से हुई कार्रवाई

हालांकि अभी यह पुष्टि नहीं हो पाई है कि यह गिरफ्तारी आर्टिकल 35-ए के कारण की गई है या फिर पुलवामा आतंकी हमले के बाद यह कदम उठाया गया है. फिलहाल यासीन मलिक सेंट्रल जेल में बंद है.
yasin malik-yasin mailk arrested-35A-jammu and kashmir-Jammu kashmir 35A-Separatist yasin malik-Separatist leaders-Separatist-pulwama terrorist attack-pulwama attack-kashmir-supreme court-supreme court 35A, अलगाववादी नेता यासीन मलिक गिरफ्तार, सुरक्षा कारणों से हुई कार्रवाई

श्रीनगर: अलगाववादी नेता और जेके एलएफ प्रमुख यासीन मलिक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. मलिक को शुक्रवार देर रात मायसूमा स्थित उनके घर से गिरफ्तार किया गया. सुप्रीम कोर्ट में आर्टिकल 35-ए को लेकर होने वाली सुनवाई से पहले यह कार्रवाई की गई है. मलिक के अलावा कई और लोगों की गिरफ्तारी हो सकती है, ताकि जम्मू-कश्मीर में किसी भी तरह का बवाल न हो सके. राज्य की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सीरआपीएफ की 100 कंपनियों को तैनात किया गया है. वहीं सुप्रीम कोर्ट में 35-ए पर 26 से 28 फरवरी तक सुनवाई होनी है.

जानें क्या है 35-ए

  • आर्टिकल 35-ए धारा 370 का हिस्सा है.
  • जम्मू-कश्मीर के अलावा भारत के किसी भी राज्य का नागरिक यहां कोई संपत्ति नहीं खरीद सकता.
  • दूसरे राज्य का व्यक्ति जम्मू-कश्मीर का नागरिक भी नहीं बन सकता.
  • जम्मू-कश्मरी की कोई महिला अगर किसी दूसरे राज्य या देश के लड़के से शादी करती है तो उसके सारे अधिकार खत्म हो जाएंगे.
  • पूर्व राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद ने इसे 14 मई, 1954 को लागू किया था.
  • यहां का नागरिक वहीं माना जाएगा, जो कि 14 मई, 1954 में राज्य का नागरिक रहा हो, इससे पहले के 10 सालों से वहां रह रहा हो या वहां इस दौरान उसने अपनी संपत्ति बनाई हो.

35-ए हटाने की मांग क्यों?

35-ए हटाने की मांग इसलिए की जा रही है क्योंकि इस आर्टिकल के कारण पाकिस्तान से आए शरणार्थियों को अभी तक अपना अधिकार नहीं मिल पाया है. वे लोग आज तक राज्य के मौलिक अधिकार और अपनी पहचान से वंचित हैं. इतना ही नहीं इस आर्टिकल को संसद के जरिए लागू भी नहीं किया गया था.

yasin malik-yasin mailk arrested-35A-jammu and kashmir-Jammu kashmir 35A-Separatist yasin malik-Separatist leaders-Separatist-pulwama terrorist attack-pulwama attack-kashmir-supreme court-supreme court 35A, अलगाववादी नेता यासीन मलिक गिरफ्तार, सुरक्षा कारणों से हुई कार्रवाई
yasin malik-yasin mailk arrested-35A-jammu and kashmir-Jammu kashmir 35A-Separatist yasin malik-Separatist leaders-Separatist-pulwama terrorist attack-pulwama attack-kashmir-supreme court-supreme court 35A, अलगाववादी नेता यासीन मलिक गिरफ्तार, सुरक्षा कारणों से हुई कार्रवाई

Related Posts

yasin malik-yasin mailk arrested-35A-jammu and kashmir-Jammu kashmir 35A-Separatist yasin malik-Separatist leaders-Separatist-pulwama terrorist attack-pulwama attack-kashmir-supreme court-supreme court 35A, अलगाववादी नेता यासीन मलिक गिरफ्तार, सुरक्षा कारणों से हुई कार्रवाई
yasin malik-yasin mailk arrested-35A-jammu and kashmir-Jammu kashmir 35A-Separatist yasin malik-Separatist leaders-Separatist-pulwama terrorist attack-pulwama attack-kashmir-supreme court-supreme court 35A, अलगाववादी नेता यासीन मलिक गिरफ्तार, सुरक्षा कारणों से हुई कार्रवाई