‘इंतजाम नाकाफी’, सुप्रीम कोर्ट ने प्रवासी मजदूरों की हालत पर केंद्र-राज्‍यों को जारी किया नोटिस

जस्टिस अशोक भूषण, जस्टिस संजय किशन कौल और जस्टिस एम आर शाह की बेंच ने मीडिया में आ रही खबरों और मजदूरों की बदहाली पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) को लगातार मिल रही चिट्ठियों के आधार पर मामले का संज्ञान लिया है.

Supreme court on migrant laborers, ‘इंतजाम नाकाफी’, सुप्रीम कोर्ट ने प्रवासी मजदूरों की हालत पर केंद्र-राज्‍यों को जारी किया नोटिस

सुप्रीम कोर्ट ने देशभर में जगह-जगह फंसे प्रवासी मजदूरों की बदहाली पर गहरी चिंता जताते हुए खुद संज्ञान लिया और केंद्र सरकार समेत सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को नोटिस जारी कर इस पर गुरुवार तक जवाब देने का आदेश दिया है.

जस्टिस अशोक भूषण, जस्टिस संजय किशन कौल और जस्टिस एम आर शाह की बेंच ने मीडिया में आ रही खबरों और मजदूरों की बदहाली पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) को लगातार मिल रही चिट्ठियों के आधार पर मामले का संज्ञान लिया है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

कोर्ट ने कहा है कि अपने घर वापस पहुंचने के लिए देश की सड़कों पर पैदल चल रहे मजदूरों को मदद की सख्त जरूरत है. केंद्र सरकार और राज्य सरकारों के इंतजाम नाकाफी हैं, जिसके लिए केंद्र सरकार और सभी राज्यों की सरकारों को जवाब देना होगा.

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा ऐसे मजदूरों और उनके परिवार के लोगों को उनके घर तक पहुंचाने तक मुफ्त यात्रा, आश्रय और भोजन की सुविधा प्रदान करने के लिए तत्काल उपाय किए जाने की आवश्यकता है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ऐसे हालात को संभालने के लिए एक समन्वित और केंद्रित कार्रवाई की आवश्यकता है. इस मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट गुरुवार को सुनवाई करेगा.

Related Posts