SC का स्कूलों में CCTV लगाने के फैसले पर रोक से इनकार, केजरीवाल बोले- शुक्रिया

याचिकाकर्ता का कहना था कि दिल्ली सरकार का फैसला मौलिक अधिकार और निजता के अधिकार का हनन करता है.

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट से आम आदमी पार्टी को क्लासरूम में सीसीटीवी कैमरे लगाने की महत्वाकांक्षी योजना को लेकर बड़ी राहत मिली है. कोर्ट ने इस योजना पर रोक लगाने से इनकार कर दिया है. कोर्ट में याचिका दाखिल करके क्लासरूम में सीसीटीवी कैमरे लगाने की योजना को चुनौती दी गई थी. इस फैसले के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सुप्रीम कोर्ट को शुक्रिया भी कहा है.

याचिकाकर्ता का कहना था कि दिल्ली सरकार का फैसला मौलिक अधिकार और निजता के अधिकार का हनन करता है. याचिका में कहा गया है कि स्कूलों के क्लासरूम में सीसीटीवी लगाने का फैसला किया गया है और लाइव फीड पैरंट्स को मिलेगा, ये सीधे तौर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के विपरीत है.

‘बच्चों की सेफ्टी को होगा खतरा’
याचिका में सुप्रीम कोर्ट के उस फैसले का उल्लेख किया गया है जिसमें कोर्ट ने निजता के अधिकार को मौलिक अधिकार माना है. याचिकाकर्ता ने यही भी दलील दी थी कि दिल्ली सरकार के फैसले से सीसीटीवी की लाइव फीड अगर किसी और को मिल गई तो इससे बच्चों की सेफ्टी को खतरा हो सकता है.

सुप्रीम कोर्ट याचिकाकर्ता की इन दलीलों से सहमत नहीं हुआ और फैसला आप के पक्ष में सुनाया. वहीं, सीएम केजरीवाल ने इस फैसले पर कहा कि ‘छात्रों की सुरक्षा, सिस्टम में बदलाव के लिए सीसीटीवी बहुत जरूरी हैं. लेकिन कुछ लोग इसे शुरुआत से इसके खिलाफ हैं. सुप्रीम कोर्ट ने इसपर रोक नहीं लगाई, इसके लिए हम उनके आभारी हैं.’

ये भी पढ़ें-

कर्नाटक के बागी विधायकों की याचिका पर बनी रहेगी यथास्थिति, मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में अगली सुनवाई

टीवी9 भारतवर्ष की मुहिम लाई रंग, BJP ने बंदूकबाज विधायक को पार्टी से निकाला

तो क्‍या ONGC, IOC, NTPC, GAIL जैसी कंपनियों से छिन जाएगा PSU का टैग?