VIDEO: जब सुषमा स्वराज ने PM मोदी से कहा- आप ऐसे नहीं देंगे भाषण

पीएम नरेंद्र मोदी ने बताया कि सुषमा स्वराज अड़ गई थीं, वो चाहती थीं कि भाषण पढ़कर दिया जाए. इस पर मैंने कहा कि...


नई दिल्ली: पूर्व विदेश मंत्री और बीजेपी की लोकप्रिय नेता सुषमा स्वराज आज हमारे बीच नहीं हैं. मंगलवार को स्वराज का दिल्ली के एम्स अस्पताल में निधन हो गया. स्वराज से जुड़े ऐसे कई किस्से हैं जो लोग हमेशा याद रखेंगे. ऐसा ही एक किस्सा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जुड़ा हुआ है, जब स्वराज ने उन्हें भाषण देने से रोका था.

दरअसल, 2014 में प्रधानमंत्री के तौर पर नरेंद्र मोदी अमेरिका में भाषण देने वाले थे. तत्कालीन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज चाहती थीं कि पीएम मोदी पढ़कर भाषण दें. लेकिन पीएम मोदी इसके लिए राजी नहीं थे. ये मामला कैसे सुलझा, पीएम मोदी ने वो किस्सा अभिनेता अक्षय कुमार को दिए खास इंटरव्यू में सुनाया था.

पीएम मोदी ने बताया कि जब मैं अमेरिका पहुंचा तो हमारी विदेश मंत्री सुषमा स्वराज पहले से पहुंची हुई थीं, उन्हें कई सारी मीटिंग्स करनी होती थीं. मेरा नेचर है कि होटल से निकलते ही मीटिंग भी कर लेता हूं. वहां पर लोग ब्रीफिंग के लिए बैठे हुए थे. सुषमा जी ने इसे लेकर पूछा तो मैंने कहा कि कर लेंगे, इसमें क्या है.

लेकिन सुषमा अड़ गईं, वो चाहती थीं कि भाषण पढ़कर दिया जाए. इस पर मैंने कहा कि किसी को भाषण लिखने के लिए कहा नहीं है, ना मैंने खुद लिखा है. मैं तो ऐसे ही करता हूं.

उन्होंने आगे कहा कि इस पर हमारे बीच आधे घंटे बहस हुई. लेकिन उन्होंने मुझे पकड़कर रखा. उन्होंने कहा कि नहीं सर, इसमें आपकी नहीं चलेगी. आपको मानना पड़ेगा. फिर मैंने उन्हें बताया कि मुझे क्या बोलना और स्पीच तैयर की गई.

मुझे स्पीच प्रॉब्लम नहीं थी. मुझे पढ़ने में दिक्कत थी. मुझे पढ़कर बोलने में बहुत दिक्कत होती है. मेरा थॉट प्रॉसेस इतना तेज चलता है. वो मेरा पहला भाषण है जो मैं पढ़कर किया हूं.

ये भी पढ़ें-

आयरन लेडी से लेकर लायनेस ऑफ इंडिया तक, जानें सुषमा स्वराज को कैसे याद कर रहे लोग

‘मंगल पर भी फंसे तो मदद करेंगे’, वो 10 किस्‍से जब बस एक ट्वीट पर सुषमा स्वराज बन गईं ‘संकटमोचक’

LIVE: सुषमा स्वराज का पार्थिव शरीर AIIMS से घर ले जाया गया, दोपहर 3 बजे होगा अंतिम संस्कार