OIC बैठक में शामिल होने अबू धाबी पहुंची सुषमा स्वराज

फाउंडिंग मेंबर होने के बाद भी पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय मंच पर झटका लगा है. पाकिस्तान को मुस्लिम देशों के मंच आर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कोऑपरेशन ने आमंत्रित नहीं किया है.

नई दिल्ली: मुस्लिम देशों के मंच आर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कोऑपरेशन (OIC) के विदेश मंत्रियों की बैठक में शामिल होने के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज गुरुवार देर रात अबू धाबी पहुंच गईं. यह पहली बार है जब भारत को OIC की बैठक में बतौर विशेष अतिथि बुलाया गया है. सुषमा यहां पर दो दिवसीय सम्मेलन में हिस्सा लेंगी. OIC  57 देशों का एक प्रभावशाली समूह है.

हालांकि पाकिस्तान जो इस ग्रुप के फाउंडिंग मेंबर में से एक है, को इस बार झटका लगा है. पाकिस्तान को इस बार OIC में आमंत्रित नहीं किया गया है. वहीं गुरुवार को पाकिस्तान ने बयान जारी करके कहा था कि वो सुषमा स्वराज के रहते इस बैठक में शामिल नहीं होगा. इस्लामी सहयोग संगठन में 57 सदस्य हैं, जिनमें से 56 संयुक्त राष्ट्र के सदस्य राज्य हैं.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट कर इसकी जानकारी देते हुए बताया था कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज इस्लामी सहयोग संगठन के विदेश मंत्रियों की 46वीं बैठक के लिए अबू धाबी रवाना हो गईं हैं. पहली बार भारत को सम्मानित अतिथि का दर्जा दिया गया है. विदेश मंत्री पूर्ण बैठक को संबोधित करेंगी और द्विपक्षीय बैठकें करेंगी.