स्वामी चिन्मयानंद शोषण मामला: SC का यूपी सरकार को निर्देश, SIT करे जांच, हाईकोर्ट करेगा निगरानी

सुप्रीम कोर्ट ने मामले पर सुनवाई करते हुए वकील से छात्रा की लोकेशन के बारे में जानकारी मांगी थी. इसके बाद योगी सरकार को लड़की को पेश करने का निर्देश दिया था

swami chinmayanand, swami chinmayanand case, swami chinmayanand Supreme Court

लखनऊ: पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद पर शोषण के आरोपों के मामले में सुप्रीम कोर्ट सख्त हो गया है. सर्वोच्च अदालत ने सोमवार को उत्तर प्रदेश सरकार को निर्देशित करते हुए कहा है कि चिन्मयानंद पर लगाए गए छात्रा के आरोपों की जांच के लिए विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया जाए और जांच की निगरानी इलाहाबाद हाईकोर्ट करे.

अदालत ने उप्र के मुख्य सचिव को निर्देश दिए किए अगले आदेश तक छात्रा और उसके परिजनों को सुरक्षा मुहैया कराई जाए. सोशल मीडिया में शोषण के आरोप संबंधी वीडियो पोस्ट करने वाली 23 वर्षीय छात्रा शनिवार से गायब हो गई थी. जिसके बाद लड़की को राजस्थान से एक लड़के के साथ पाया गया था. इसे लेकर भाजपा के पूर्व सांसद स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ आपराधिक धमकी का मामला दर्ज किया गया है.

सुप्रीम कोर्ट ने मामले पर सुनवाई करते हुए वकील से छात्रा की लोकेशन के बारे में जानकारी मांगी थी. इसके बाद योगी सरकार को लड़की को पेश करने का निर्देश दिया था. 30 अगस्त को छात्रा के मिलने के बाद उसे अदालत में पेश किया गया. यहां पर एक न्यायाधीश ने उससे बातचीत की थी. इस दौरान छात्रा ने कहा था कि वह घर वापस जाना नहीं चाहती है और उसके परिजनों को भी दिल्ली बुला लिया जाए. इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि छात्रा को सुरक्षा मुहैया कराई जाए.

गौरतलब है कि सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में लड़की रो-रोकर आपबीती सुना रही है. लड़की पूर्व गृह राज्य मंत्री स्वामी चिन्मयानंद (Swami Chinmayanand) के लॉ कॉलेज की ही छात्रा का है. वीडियो में वह रो-रोकर इल्जाम लगा रही है कि ‘संत समाज के एक बहुत बड़े नेता’ ने कई लड़कियों की जिंदगी बर्बाद की है और अब उसकी हत्या करना चाहते हैं. इसके बाद से लड़की गायब है.

वायरल वीडियो में लड़की ने आरोप लगाया था, ‘संत समाज के एक बहुत बड़ा नेता जो कि बहुत लड़कियों की जिंदगी बर्बाद कर चुका है और मुझे भी जान से मारने की धमकी देता है. मेरा मोदी जी और योगी जी से अनुरोध है कि वह प्लीज मेरी मदद करें. उसने मेरे परिवार तक को मारने की धमकी दी है. लेकिन मेरे पास उसके खिलाफ सारे सबूत हैं. आप लोगों से आग्रह है कि प्लीज मुझे इंसाफ दिलाइये.’

Related Posts