देश हुआ शर्मसार, JNU में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का हुआ अपमान

एडमिन ब्लॉक में किसी अधिकारी या जिम्मेदार शख्स के न मिलने पर उनका आक्रोश फूट पड़ा और गुस्से में आकर उन्होंने वीसी ऑफिस की दीवारों पर भी विरोध जताने वाले संदेश लिख डाले

नई दिल्ली: जेएनयू (JNU) में बढ़ी हुई फीस को लेकर पिछले काफी दिनों से छात्र आंदोलन कर रहे थे. सरकार के आश्वासन के बाद विवाद खत्म हो गया था लेकिन अब एक बड़ी खबर सामने आ रही है.

यूनिवर्सिटी कैंपस में लगी स्वामी विवेकानंद की मूर्ति (Swami Vivekanand Statue) का कुछ असमाजिक तत्वों ने अपमान किया. BJP को निशाना बनाते हुए प्रतिमा के पास फर्श पर ‘भगवा जलेगा’ और कुछ और आपत्तिजनक बातें लिख दी गईं. हालांकि, यह सब किसने किया? यह अभी तक साफ नहीं हो सका है.

विवेकानंद (Vivekanand) की यह प्रतिमा कैंपस के एडमिनिस्ट्रेटिव ब्लॉक (प्रशासनिक खंड) में है, जिसके कुछ ही दूर पंडित नेहरू की भी मूर्ति स्थापित है. प्रतिमा के साथ छेड़खानी की बात तब सामने आई, जब कुछ स्टूडेंट्स वीसी से मिलने एडमिन ब्लॉक जा रहे थे. वे सभी हॉस्टल की बढ़ी फीस के विरोध में वहां जुटे थे. छात्र-छात्राएं फीस के मुद्दे पर बुधवार को भी कुलपति से मिलने गए थे, पर उन्हें वहां कोई मिला ही नहीं.

सूत्रों के मुताबिक, एडमिन ब्लॉक में किसी अधिकारी या जिम्मेदार शख्स के न मिलने पर उनका आक्रोश फूट पड़ा और गुस्से में आकर उन्होंने वीसी ऑफिस की दीवारों पर भी विरोध जताने वाले संदेश लिख डाले. दीवारों पर ‘आप हमारे वीसी नहीं हैं’ और ‘अलविदा’ लिखा मिला.