Corona का सामना करने के लिए TATA ने दिए 1,500 करोड़ रुपए, जानिए कहां होंगे खर्च

कोरोनावायरस (Coronavirus) के चलते दुनियाभर में व्यापार ठप पड़ा है और इसके कारण 28 हजार से ज्यादा लोग अब तक अपनी जान गंवा चुके हैं. ऐसे में कई व्यापारी मदद के लिए सामने आ रहे हैं.
TATA gave 1500 crore rupees to fight Coronavirus pandemic, Corona का सामना करने के लिए TATA  ने दिए 1,500 करोड़ रुपए, जानिए कहां होंगे खर्च

पूरे भारत में जिस कोरोनावायरस के चलते लॉकडाउन (Lock Down) किया गया है उससे लड़ने के लिए टाटा फैमिली ने 1,500 करोड़ रुपए की मदद उपलब्ध कराने का वादा किया है. यह अब तक किसी भी बिजनेस ग्रुप द्वारा कोरोनावायरस से लड़ाई के लिए दिए जाने वाली सबसे बड़ी राशि है. टाटा संस ने इस महामारी से निपटने के लिए 1,000 करोड़ और टाटा ट्रस्ट ने 500 करोड़ की मदद का ऐलान किया है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

मालूम हो कि पिछले साल नवंबर महीने में कोरोनावायरस (Coronavirus) की शुरुआत चीन से हुई थी और अब यह पूरी दुनिया में फेल गया है और तबाही मचा रहा है. कोरोनावायरस के चलते दुनियाभर में व्यापार ठप पड़ा है और इसके कारण 28 हजार से ज्यादा लोग अब तक अपनी जान गंवा चुके हैं. ऐसे में कई व्यापारी मदद के लिए सामने आ रहे हैं.

देखिए #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

टाटा ट्रस्ट (Tata Trust) के चेयरमैन रतन टाटा (Ratan Tata) ने कोरोनावायरस से सामना करने के लिए मदद उपलब्ध कराने के बाद कहा, ‘COVID-19 की समस्या हमारे लिए एक कठिन चैलेंज है और हम सब इसका एक रेस की तरह सामना करेंगे.’ इसी के साथ उन्होंने चैरिटेबल ऑर्गेनाइजेशन का स्टेटमेंट भी शेयर किया.

देखिए फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

स्टेटमेंट में टाटा ने कहा कि ये बहुत गंभीर समय है, ऐसे में तत्काल आपातकालीन संसाधनों के साथ हमें इसका सामना करने के लिए तैनात रहने की आवश्यकता है. इसलिए इस फंड का उपयोग ट्रीटमेंट फैसेलिटी, रेस्पिरेटरी सिस्टम और प्रोटेक्टिव हेल्थ गियर की मैन्युफेक्चरिंग के लिए किया जाएगा. साथ ही इसका उपयोग टेस्टिंग किट की सप्लाई और हेल्थ वर्कर्स की ट्रेनिंग के लिए भी होगा.

देखिए परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

एक अलग बयान में टाटा संस के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने कहा कि कंपनी टाटा ट्रस्ट के साथ मिलकर COVID-19 से लड़ने के लिए काम करेगी. चंद्रशेखरन ने वेंटिलेटर्स बनाने को लेकर की जा रही तैयारियों के बारे में भी जानकारी दी. मालूम हो कि इस भीषण समस्या का सामना करने के लिए देश को कई वेंटिलेटर्स की जरूरत होगी.

Related Posts