बचपन के दिनों में पीएम मोदी जिस दुकान पर बेचते थे चाय, वहां अब बनेगा टूरिस्ट स्पॉट

पर्यटन मंत्री पटेल ने चाय की दुकान का मुआयना किया. टीन की इस दुकान के नीचे के हिस्से में जंग लग गया है.

गुजरात: पीएम मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद से उनके जीवन संघर्षों को लेकर कई कहानियां सामने आई है. इन्हीं कहानियों में से एक है उनके बचपन में चाय बेचने की कहानी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने बचपन के दिनों में अपने गृह नगर वडनगर में रेलवे स्टेशन पर चाय बेचा करते थे. खुद पीएम कई बार इस बात का जिक्र कर चुके हैं. बताया जा रहा है कि अब उस चाय दुकान को टूरिस्ट स्पॉट बनाया जाएगा.

केंद्रीय पर्यटन और संस्कृति मंत्री प्रह्लाद पटेल हाल ही में पीएम मोदी के गृहनगर सर्वेक्षण के लिए गए थे. उन्होंने पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए कई जगहों की पहचान की है जिसे आने वाले समय में विकसित किया जा सके. इस दौरान पटेल वडनगर रेलवे स्टेशन भी पहुंचे.

आपको याद होगा कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने 2014 लोकसभा चुनाव के दौरान नरेंद्र मोदी के चाय बेचने वाली बात पर चुटकी ली थी. उन्होंने कहा था कि मोदी 21 वीं सदी में कभी देश के प्रधानमंत्री नहीं बन सकेंगे और अगर वे चाहें तो एआईसीसी अधिवेशन में चाय बेच सकते हैं. इसे बीजेपी और मोदी ने बड़ा मुद्दा बना दिया था. बीजेपी ने इसके बाद चाय पर चर्चा अभियान भी शुरू कर दिया था.

पर्यटन मंत्री पटेल ने चाय की दुकान का मुआयना किया. टीन की इस दुकान के नीचे के हिस्से में जंग लग गया है. इसे बचाने के लिए पटेल ने अधिकारियों से दुकान को शीशे से ढंकने को कहा है. उन्होंने यह निर्देश भी दिया है कि इस दुकान का मौजूदा स्वरूप बरक़रार रखा जाए.

पटेल ने वडनगर के अन्य ऐतिहासिक और धार्मिक महत्व के स्थानों का भी दौरा किया. यहां 2700 साल पुरानी धरोहरों को सहेज कर रखा गया है.